Create

अफ्रीकी देशों में क्रिकेट के प्रसार के लिए फिर से 'Afro-Asian' प्रोजेक्ट शुरु करना चाहते हैं जय शाह

अफ्रीकी देशों में क्रिकेट को फैलाना चाहते हैं जय शाह
अफ्रीकी देशों में क्रिकेट को फैलाना चाहते हैं जय शाह

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) के सेक्रेटरी और एशियन क्रिकेट काउंसिल (ACC) के अध्यक्ष जय शाह ने अफ्रीकी देशों में क्रिकेट को बढ़ावा देने के लिए एक नया प्रोजेक्ट शुरू करने का विचार बनाया है। शाह जिस प्रोजेक्ट पर काम करने वाले हैं उसका नाम afro-asian प्रोजेक्ट है जिसे 2005 में सबसे पहले स्वर्गीय जगमोहन डालमिया ने विचार में लाया था, लेकिन 2009 में यह अचानक ही समाप्त हो गया था।

खेल को बढ़ावा देने वाले डालमिया के विजन को आगे ले जाने के लिए शाह ने एक ऐसे प्लान को अमल में लाने की तैयारी शुरू कर दी है जिससे खेल को ग्लोबल स्टेज पर बढ़ावा मिल सके और खासतौर से अफ्रीकी देशों में इसका प्रसार किया जा सके। फिलहाल के समय में एशिया क्रिकेट का सबसे बड़ा मार्केट बन चुका है और अब शाह चाहते हैं कि जितना प्रसार इसका एशिया में हुआ है उसी प्रकार अफ्रीकी देशों में भी इसको फैलाया जा सके और वहां के ग्रास रूट लेवल को मजबूत किया जा सके।

अफ्रीकन क्रिकेट एसोसिएशन के सदस्य देशों में क्रिकेट काफी ज्यादा मशहूर है और लगभग 570 मिलियन की आबादी इसे फॉलो करती है। शाह जिस प्रोजेक्ट पर काम करने वाले हैं उससे एशियन क्रिकेट काउंसिल और अफ्रीकन क्रिकेट एसोसिएशन दोनों को फायदा होगा। शाह ने एक ऐसे मॉडल का प्रस्ताव रखा है जो आर्थिक और तकनीकी रूप से काफी सुदृढ़ है इस प्रोजेक्ट से ग्रास रूट लेवल और ऐज-ग्रुप के क्रिकेटर्स पर ध्यान दिया जाएगा।

एक ऐसा प्लान तैयार किया गया है जिससे अंडर-16 अंडर-19 और अंडर-23 लेवल के खिलाड़ियों को अच्छे कोच और मेंटर उपलब्ध कराकर अच्छी सुविधाएं दिलाई जाएं। इसके साथ ही ऐसे खिलाड़ियों के लिए मजबूत प्रतियोगिताएं रखी जाएं और उन्हें अधिक से अधिक गेम टाइम भी उपलब्ध कराया जाए। इन सबके अलावा सभी खिलाड़ियों को अलग-अलग क्षेत्रों से आने वाले खिलाड़ियों के आमने-सामने रखकर उनकी स्किल को भी टेस्ट किया जाए।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment