Create
Notifications

ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी जॉन हैस्टिंग्स ने वन-डे क्रिकेट से लिया संन्यास

Naveen Sharma

ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जॉन हैस्टिंग्स ने अचानक 50 ओवर के प्रारूप से संन्यास लेने की घोषणा कर दी है। उनके इस निर्णय के पीछे बार-बार चोटिल होना बताया जा रहा है। इसके अलावा इस 31 वर्षीय खिलाड़ी के प्रथम श्रेणी क्रिकेट से भी रिटायर होने की भी खबर सामने आई है।

उन्होंने विक्टोरिया के अपने साथी खिलाड़ियों को इस निर्णय के बारे में बताया था। इससे साफ़ हो गया है कि वे अब विक्टोरिया के लिए भी नहीं खेलेंगे लेकिन बिग बैश लीग में मेलबर्न स्टार्स की ओर से खेलना वे जारी रखेंगे जहाँ उन्हें कप्तानी सौंपी गई है। पिछले 12 महीनों से उन्हें चोटों ने काफी परेशान किया है और इसी वजह से उन्होंने इतना बड़ा फैसला लेने का मन बना लिया।

ऑस्ट्रेलिया के लिए हैस्टिंग्स ने एक उपयोगी ऑलराउंडर के रूप में क्रिकेट खेला है। निचले क्रम में अच्छी बल्लेबाजी और गेंदबाजी में शानदार प्रदर्शन के दम पर टीम का हिस्सा रहे इस खिलाड़ी ने 29 अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय मैचों में कंगारू टीम का नेतृत्व किया। इसमें 42 विकेट झटकने के अलावा उन्होंने 271 रन भी बनाए। एक बार पारी में पांच विकेट भी हैस्टिंग्स ने झटके। बल्लेबाजी में उनका औसत स्ट्राइक रेट 99 से भी अधिक का रहा।

इस वर्ष जून में इंग्लैंड में हुई चैम्पियंस ट्रॉफी में ऑस्ट्रेलियाई टीम का हिस्सा बनने वाले इस खिलाड़ी ने 2016 में वन-डे क्रिकेट में सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाजों की सूची में दूसरा स्थान बनाया। वन-डे क्रिकेट के अलावा ऑस्ट्रेलिया के लिए उन्होंने 1 टेस्ट और 9 टी20 मैचों में शिरकत की।

प्रथम श्रेणी क्रिकेट में इस ऑलराउंडर ने 75 मैच खेलकर 239 विकेट झटके। इस दौरान उनका औसत महज 27 का रहा। इसके अलावा बल्लेबाजी में उन्होंने 22 की औसत से रन बनाए हैं। वे विक्टोरिया के शेफिल्ड शील्ड ट्रिम्प का भी हिस्सा रहे हैं। ऑस्ट्रेलिया के लिए अच्छी बात यह है कि छोटे प्रारूप के लिए यह खिलाड़ी टीम में चुने जाने के लिए उपलब्ध रहेगा।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...