Hindi Cricket News - एम एस धोनी, सौरव गांगुली और अनिल कुंबले की कप्तानी को लेकर कृष्णमाचारी श्रीकांत ने दिया बड़ा बयान

सौरव गांगुली और एम एस धोनी
सौरव गांगुली और एम एस धोनी

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी कृष्णमाचारी श्रीकांत ने धोनी की कप्तानी के बारे में बात की है। इसके साथ ही उन्होंने धोनी, गांगुली और कुंबले की कप्तानी की तुलना भी की है और बताया है कि इन तीनों कप्तानों की कप्तानी में क्या अंतर था।

एएनआई से बात करते हुए श्रीकांत ने धोनी के बारे में अपनी राय रखी। उन्होंने कहा कि धोनी को कुंबले की कप्तानी से सीखने को मिला और उन्हें इससे कप्तान के गुण समझ में आए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि धोनी, सौरव गांगुली और अनिल कुंबले की कप्तानी करने की शैली में काफी अंतर है। धोनी सौरव से बिल्कुल अलग कप्तान थे।

ये भी पढ़ें: धोनी के समर्थन में आई चेन्नई सुपर किंग्स, केविन पीटरसन के ट्वीट का दिया मजेदार जवाब

श्रीकांत ने कहा कि "2007 के टी 20 विश्व कप में जब धोनी कप्तान थे, तो उन्होंने टीम को वास्तव में अच्छी तरह से संभाला, इस जीत ने उनके आत्मविश्वास को बढ़ाया। वह हमेशा शांत रहे हैं और उन्होंने खिलाड़ियों को प्रेरित किया है। क्रिकेट में कप्तानी की आक्रामक शैली सौरव गांगुली द्वारा लाई गई थी, जबकि एमएस इसके बिल्कुल विपरीत थे।"

इसके साथ ही श्रीकांत ने उस समय को याद किया जब धोनी ने कुंबले की कप्तानी में खेला था। उसे याद करते हुए श्रीकांत ने कहा कि "जब कुंबले टेस्ट टीम के कप्तान थे, तो यह धोनी के लिए सीखने का एक अच्छा मौका था। अनिल ने उन्हें बहुत जरूरी अनुभव दिया और धोनी ने खिलाड़ियों को बहुत आत्मविश्वास दिया।"

बता दें, धोनी ने पहली बार 2007 में टी20 विश्वकप में भारत का नेतृत्व किया था। इस टूर्नामेंट में भारत को जीत हासिल हुई थी। इसके बाद उन्होंने एकदिवसीय क्रिकेट में कप्तानी संभाली लेकिन उन्हें टेस्ट टीम का नेतृत्व करने के लिए इंतजार करना पड़ा। उस समय अनिल कुंबले भारत की टेस्ट टीम की कप्तानी कर रहे थे। धोनी ने 2014 में टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया और 2017 में एकदिवसीय क्रिकेट में भी कप्तानी से हट गए।

Quick Links

App download animated image Get the free App now