Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

जडेजा-अश्विन की घातक गेंदबाज़ी के बाद विजय-पुजारा ने तैयार किया विजयपथ, टीम इंडिया को 215 रनों की बढ़त

Syed Hussain
ANALYST
Modified 11 Oct 2018, 14:09 IST
Advertisement
भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के तीसरे दिन टीम इंडिया ने शानदार वापसी करते हुए मैच पर पकड़ मज़बूत कर ली है। तीसरे दिन का खेल ख़त्म होने तक भारत ने 1 विकेट पर 159 रन बना लिए हैं, इस तरह से कोहली एंड कपंनी की कुल बढ़त अब 215 रनों की हो चुकी है। पहली पारी में भारत के बनाए गए 318 रनों के जवाब में दूसरे दिन का खेल ख़त्म होने तक न्यूज़ीलैंड का स्कोर 152/1 रन था। केन विलियमसन और टॉम लैथम ने मेहमान टीम को अच्छी पोजिशन में खड़ा कर दिया था। तीसरे दिन टीम इंडिया के गेंदबाज़ों ने मैच में नाटकिय मोड़ लाया और और कीवियों के अगले 9 विकेट महज़ 103 रनों पर ही ढेर कर दिए। रविंद्र जडेजा (5/73) और आर अश्विन (4/93) के सामने कीवी बल्लेबाज़ों ने घुटने टेक दिए। लैथम और विलियमसन के बीच 124 रनों की साझेदारी को अश्विन ने तोड़ा जब तीसरे दिन की शुरुआत में ही ऑफ़ स्पिनर ने बाएं हाथ के बल्लेबाज़ लैथम को LBW आउट कर दिया। लैथम ने 58 रन बनाए। अगले ही ओवर में जडेजा ने अनुभवी रॉस टेलर को भी पैवेलियन का रास्ता दिखा दिया था। भारत के लिए सबसे बड़ी दीवार थे कप्तान विलियमसन जिन्हें अश्विन ने अपनी घुमती हुई गेंद पर फंसाया और उनके स्टंप्स बिखेर डाले। विलियमसन ने 137 गेंदो पर 75 रन बनाए, कीवी कप्तान के आउट होते ही मेहमान टीम लड़खड़ा गई। जडेजा और अश्विन ने अपनी गेंदो पर कीवी बल्लेबाज़ों को ख़ूब नचाया और पूरी टीम को लंच के कुछ ही देर बाद 262 रनों पर ढेर कर दिया। इस तरह से भारत को पहली पारी के आधार पर 56 रनों की बढ़त हासिल हुई। जडेजा ने टेस्ट करियर में पांचवीं बार पारी में पांच शिकार किया, जबकि अश्विन को 4 सफलता हासिल हुई। भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज़ों की जोड़ी कानपुर की पिच को देखते हुए एक रणनीति के साथ मैदान पर उतरी। मुरली विजय और के एल राहुल ने नई गेंद पर ज़्यादा से ज़्यादा और जल्दी से जल्दी रन बनाने की क़वायद में थे। राहुल और विजय ने पहली विकेट के लिए 52 रन जोड़ दिए थे, लेकिन तभी चायकाल से ठीक पहले इश सोढ़ी ने राहुल को स्लिप में रॉस टेलर के हाथों कैच आउट करा दिया। राहुल ने 50 गेंदो पर 8 चौको की मदद से 38 रन बनाए। नंबर-3 पर बल्लेबाज़ी करने आए चेतेश्वर पुजारा ने भी अपने इरादे साफ़ कर दिए थे, दोनों ने तेज़ी से रन बनाते हुए 162 गेंदो पर शतकीय साझेदारी पूरी की। इस दौरान मुरली विजय ने मैच में अपना दूसरा अर्धशतक पूरा कर लिया। तीसरे दिन के आख़िरी ओवर में पुजारा ने भी अपना अर्धशतक पूरा कर लिया था, इसके लिए पुजारा ने बस 80 गेंदो का सामना किया। कानपुर की पिच पर भारत और न्यूज़ीलैंड दोनों ही टीमों की पहली पारी में ये देखा गया था कि गेंद पुरानी होते ही रन मुश्किल से आते हैं। लिहाज़ा कोहली इसी रणनीति के साथ खेल रहे हैं कि जल्दी से जल्दी स्कोर बोर्ड पर एक बड़ा लक्ष्य रख दिया जाए, ताकि चौथी पारी में न्यूज़ीलैंड के सामने 350 के आस पास की चुनौती दी जाए, जो इस पिच पर अश्विन और जडेजा के सामने बेहद कठिन साबित हो सकता है। क्रीज़ पर फ़िलहाल मुरली विजय (64*) और चेतेश्वर पुजारा (50*) मौजूद हैं इन दोनों के बीच अब तक 107 रनों की नाबाद साझेदारी हो चुकी है। टेस्ट मैच में अभी दो दिनों का खेल बाक़ी है और भारत की बढ़त 215 रनों की हो चुकी है। संक्षिप्त स्कोरकार्ड भारत 318 और 159/1 (विजय 64*, पुजारा 50*) न्यूज़ीलैंड पहली पारी 262/10 (विलियमसन 75, जडेजा 5/73) लाइव कॉमेंट्री के लिए यहां क्लिक करें Published 24 Sep 2016, 16:46 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit