Create
Notifications

कपिल देव महान खिलाड़ियों के क्लब में शामिल

Naveen Sharma
FEATURED WRITER
Modified 21 Sep 2018
पूर्व भारतीय क्रिकेटर कपिल देव को महान खिलाड़ियों के क्लब ‘हॉल ऑफ फेम’ में शामिल किया गया है। मंगलवार को मुंबई में क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया में उन्हें पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर, अजित वाडेकर और नारी कॉन्ट्रेक्टर की मौजूदगी में यह सम्मान मिला। 1983 विश्वकप में टीम इंडिया को विजेता बनाने वाले कपिल देव को देश का श्रेष्ठ ऑलराउंडर माना गया। इस अवसर पर लीजेंड क्लब के अध्यक्ष माधव आप्टे ने कपिल देव को प्रशस्ति पत्र भेंट किया। टेस्ट क्रिकेट में 10 हजार रन बनाने वाले पहले खिलाड़ी सुनील गावस्कर को अजित वाडेकर ने प्रशस्ति पत्र दिया। उन्हें क्रिकेट में बेस्ट मानते हुए यह सम्मान दिया गया। कपिल देव हॉल ऑफ फेम में शामिल होने के बाद खुश नजर आए और उन्होंने कहा “कई लोग आएंगे लेकिन यह (सुनील गावस्कर) नाम हमेशा शीर्ष पर रहेगा। खेल के प्रति हमारा जुनून था और हमें इसके लिए कोई अवार्ड नहीं चाहिए। हमारी सफलता के साथ हमारा जुनून था, लोग खुश होते हैं तो आप गर्व महसूस करते हो। मुझे लगता है कि क्रिकेट बहुत बदला है और यह अच्छा है।“ पुराने दिनों को याद करते हुए इस पूर्व भारतीय ऑलराउंडर ने कहा “मैं तकनीकी रूप से मजबूत नहीं था, मुंबई में कई लोग सिखाने वाले थे लेकिन मुझे कोई सिखाने वाला नहीं था। जब हम चंडीगढ़ में खेलते थे, तो वहां टर्फ विकेट नहीं होती थी। यही जुनून था।“ कपिल को महान भारतीय मैच विजेता खिलाड़ी बताते हुए सुनील गावस्कर ने कहा “उसी टीम में कपिल के साथ खेलना एक सम्मान की बात है। जिन खिलाड़ियों ने उस समय भारत के लिए मैच जीते उनकी रेस्पेक्ट करता हूं। गेंद और बल्ले से जिस प्रकार कपिल ने प्रदर्शन किया, वैसा किसी ने नहीं किया। यह उनके लिए कठिन काम था। उनका जोश अतुल्य था और मेरे कप्तान रहते उन्हें रोकना सबसे मुश्किल काम था” उल्लेखनीय है कि क्रिकेट के सबसे लंबे प्रारूप में कपिल देव 400 विकेट लेने वाले पहले भारतीय गेंदबाज और गावस्कर 10 हजार रन बनाने वाले विश्व के पहले बल्लेबाज हैं। 1985 में गावस्कर की कप्तानी में भारत ने विश्व चैम्पियन्शिप जीती थी।
Published 18 Jan 2017
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now