विराट कोहली ने भारतीय टीम के व्यस्त कार्यक्रम पर उठाया सवाल, बीसीसीआई ने लिया संज्ञान

भारतीय टीम आईपीएल के 10वें सीजन से ही लगातार क्रिकेट खेल रही है। आईपीएल, चैंपियंस ट्रॉफी, वेस्टइंडीज का दौरा, श्रीलंका का दौरा, ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू श्रृंखला और अब श्रीलंका के साथ घरेलू सीरीज। इसके तुरंत बाद भारतीय टीम को दक्षिण अफ्रीका के लंबे दौरे के लिए रवाना होना है। टीम को इतना खेलना पड़ रहा है कि उसे बिल्कुल भी तरोताजा होने का मौका नहीं मिलता है और अब टीम के कप्तान विराट कोहली ने भी इसको लेकर सवाल उठाया है। कोहली ने कहा है कि लगातार क्रिकेट खेलने की वजह से टीम को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के लिए तैयारी करने का मौका नहीं मिल रहा है और यही वजह है कि श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज हरी पिच पर कराकर भारतीय टीम दौरे की तैयारी कर रही है। कोहली ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका दौरे की तैयारी के लिए उनके पास बाउंसी पिचों पर खेलने के अलावा और कोई विकल्प नहीं बचा है क्योंकि भारतीय टीम के पास बिल्कुल भी समय नहीं है। उन्होंने कहा कि दुर्भाग्वश दक्षिण अफ्रीका रवाना होने से पहले हमें केवल दो दिन का समय मिला है। इसलिए हमारे पास वहां की परिस्थितियों के मुताबिक पिचों पर खेलने के अलावा और कोई चारा नहीं है। अगर हमें एक महीने का समय मिला होता तो हम पूरी तरह से तैयारी कर पाते लेकिन ऐसा नहीं है। वहीं कोहली द्वारा दिए गए इस बयान पर बीसीसीआई ने तुरंत संज्ञान लिया है। बीसीसीआई के कार्यकारी अध्यक्ष सीके खन्ना ने कहा कि विराट कोहली भारतीय टीम के कप्तान हैं और क्रिकेट को लेकर उनकी किसी भी राय को गंभीरता से लिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें इस बात पर गर्व है कि हमारी टीम इस वक्त काफी अच्छा प्रदर्शन कर रही है लेकिन अगर खिलाड़ी थक चुके हैं तो हमें इस पर ध्यान देने की जरुरत है। खन्ना ने उम्मीद जताई की 9 दिसंबर को होने वाली स्पेशल जनरल मीटिंग में इस मुद्दे को उठाया जा सकता है। गौरतलब है भारतीय टीम श्रीलंका के खिलाफ श्रृंखला के बाद दक्षिण अफ्रीका के लंबे दौरे पर रवाना होगी। प्रोटियाज के खिलाफ भारतीय टीम को 3 टेस्ट, 6 एकदिवसीय और 3 टी20 मैचों की श्रृंखला खेलनी है।

Edited by Staff Editor