'मैं विराट कोहली से ज़्यादा से ज़्यादा क्रिकेट सीखना चाहता हूँ'

जब बात हो आईपीएल सीज़न-9 की और विराट कोहली का नाम सामने ना आए ऐसा हो ही नहीं सकता इसीलिए शायद इस युवा खिलाड़ी ने इतनी बड़ी बात कही, ''मैं कोहली से क्रिकेट का ज्ञान लेना चाहूँगा''। वैसे तो आईपीएल-9 में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की शुरुआत काफी खराब रही थी और सीज़न के बीच में बैंगलोर अंक तालिका में नंबर-7 पर काबिज थी, और उसका सबसे बड़ा कारण था बैंगलोर की गेंदबाजी जिसने इस टीम को शुरुआती मैचों में काफी निराश किया, और साथ ही साथ क्रिस गेल का फ़ेल होना भी बैंगलोर के लिए सिर दर्द बना रहा। पर पिछले छह मैच में जो हुआ वह किसी चमत्कार से कम नहीं है और इस चमत्कार को करने वाला एक ही सुपरह्यूमन है विराट कोहली जिसका बखूबी साथ निभाया मिस्टर 360 के नाम से मशहूर ए बी डीविलियर्स ने। कोहली ने आईपीएल-9 में 4 शतक लगाए हैं और किसी एक सीज़न में ऐसा करने वाले वो दुनिया के अकेले बल्लेबाज़ हैं। वो इस समय इतने शानदार फॉर्म में चल रहे हैं कि विपक्षि टीम के समर्थक भी खुद को कोहली की तारीफ करने से रोक नहीं पा रहे हैं। बैंगलोर का यह सितारा आईपीएल के किसी एक सीज़न में 900+ रन बनाने वाला पहला खिलाड़ी है जिसकी तुलना महान बल्लेबाज़ सचिन तेंदुलकर से की जाने लगी है। जैसे जैसे यह सीज़न अपनी चरम सीमा पर पहुंचता चला जा रहा है कोहली की छाया उनके साथी खिलाड़ियों पर भी असरदार साबित होती जा रही है। जिसका एक नमूना बैंगलोर के विकेट कीपर बल्लेबाज़ के एल राहुल ने यह कहकर पेश किया है “मुझे अपने कप्तान और घातक बल्लेबाज़ विराट कोहली के साथ ड्रेससिंग रूम शेयर करने में गर्व महसूस होता है”। इस प्रतिभाशाली विकेट कीपर बल्लेबाज़ ने भी अपनी टीम के लिए काफी अहम भूमिका प्रदान की है, जब भी टॉप ऑर्डर में गेल और डीविलियर्स फ़ेल हुए हैं इस बल्लेबाज़ ने कोहली का बखूबी साथ निभाते हुए टीम को जीत की रेखा के पार पहुंचाया है जिसका उदाहरण दिल्ली से खेले गए करो या मरो के मुक़ाबले में हमें देखने को मिला, कोहली के साथ मिलकर की गई वो साझेदारी ही दिल्ली के खिलाफ जीत का सूत्र बनी। कोहली के लिए लोकेश राहुल ने कहा, “वह जिस अंदाज़ में बल्लेबाज़ी कर रहे हैं चाहे वह आईपीएल हो या अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट वह किसी भी खिलाड़ी के लिए जो उन्हें देख रहा है एक प्रेरणा हैं, और वह जिस तरह से कप्तानी कर रहे हैं मैं उनसे बहुत कुछ सीखने की कोशिश कर रहा हूँ”। उम्मीद है राहुल की ये प्रेरणा उन्हें भी कोहली की तरह आगे लेकर जाए, और वह भी देश का नाम रोशन करें।

Edited by Staff Editor