ऑस्ट्रेलिया की पूर्व क्रिकेटर ने रचा इतिहास, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों के संघ की पहली महिला अध्यक्ष बनीं

लिसा स्थालेकर ने इस पद पर काबिज होकर इतिहास रचा है
लिसा स्थालेकर ने इस पद पर काबिज होकर इतिहास रचा है

ऑस्ट्रेलिया (Australia) की पूर्व खिलाड़ी लिसा स्थालेकर (Lisa Sthalekar) फेडरेशन ऑफ़ इंटरनेशनल क्रिकेटर्स एसोसिएशन (FICA) की पहली महिला प्रेसिडेंट बन गई हैं। उनकी नियुक्ति स्विट्जरलैंड में संगठन की कार्यकारी समिति की बैठक में की गई थी, जो कोविड महामारी की शुरुआत के बाद पहली व्यक्तिगत बैठक थी। स्थालेकर ने यह पद हासिल करते हुए इतिहास रचा है। उनसे पहले दक्षिण अफ्रीका के पूर्व बल्लेबाज बैरी रिचर्ड्स, वेस्टइंडीज के पूर्व ऑल राउंडर जिमी एडम्स और इंग्लैंड के पूर्व खिलाड़ी विक्रम सोलंकी इस पद पर रह चुके हैं।

FICA के कार्यकारी अध्यक्ष हीथ मिल्स ने कहा कि अपने सदस्यों के साथ परामर्श के बाद हमें अपनी पहली महिला अध्यक्ष के लिए में लिसा के नाम की घोषणा करते हुए ख़ुशी हो रही है। लिसा ने इस मौके पर कहा कि यह खेल अब एक वैश्विक गेम बन गया है। पहले की तुलना में अब ज्यादा खिलाड़ी इस गेम को खेल रहे हैं और हम एक नए दौर में आ गए हैं।

गौरतलब है कि ऑस्ट्रेलिया के लिए खेलने वाली लिसा का जन्म पुणे में हुआ था। उन्होंने खेल के तीन प्रारूपों में कुल 187 अंतरराष्ट्रीय मैचों में ऑस्ट्रेलिया की टीम का प्रतिनिधित्व किया। एकदिवसीय क्रिकेट में उनके नाम 2 शतक और 16 अर्धशतकीय पारियां हैं।

वह वनडे क्रिकेट में एक हजार रन और 100 विकेट लेने वाली पहली क्रिकेटर बनी थीं। ऑस्ट्रेलिया के लिए लिसा ने आठ टेस्ट मुकाबले और 54 टी20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले भी खेले थे। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों के एसोसिएशन में उनका नाम शामिल करना महिला क्रिकेटरों के लिए भी गर्व की बात है।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma