Create
Notifications

मध्य प्रदेश ने रणजी ट्रॉफी का खिताब जीतकर इतिहास रचा, 41 बार की चैंपियन को फाइनल में हराया

रणजी ट्रॉफी के साथ मध्य प्रदेश के खिलाड़ी ( Pic Credit - Screenshot BCCI)
रणजी ट्रॉफी के साथ मध्य प्रदेश के खिलाड़ी ( Pic Credit - Screenshot BCCI)
Prashant Kumar

रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) 2022 के फाइनल मुकाबले में मध्य प्रदेश ने 41 बार की चैंपियन मुंबई को 6 विकेट से मात देते हुए ट्रॉफी जीतने में कामयाबी पाई। मैच के अंतिम दिन मुंबई के द्वारा दिए 108 रनों के लक्ष्य को मध्य प्रदेश ने 4 विकेट खोकर हासिल करते हुए जीत दर्ज की। फाइनल मुकाबले में शानदार शतक लगाने वाले शुभम शर्मा को प्लेयर ऑफ़ द मैच चुना गया। वहीं पूरे रणजी सीजन अपने बल्ले से लगातार रन बनाने वाले सरफ़राज़ खान प्लेयर ऑफ़ द सीरीज बने।

इससे पहले अंतिम दिन मुंबई ने अपने कल के स्कोर 113/2 से आगे खेलना शुरू किया। कल के नाबाद बल्लेबाज अरमान जाफर 37 रन बनाकर आउट हुए। सुवेद पारकर ने सेट होकर अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन 51 रन के निजी स्कोर पर कुमार कार्तिकेय ने उन्हें अपना शिकार बनाया। पहली पारी में अर्धशतक लगाने वाले यशस्वी जायसवाल महज 1 रन का ही योगदान दे पाए। सरफ़राज़ खान ने तेजी से रन बनाने का प्रयास किया और 48 गेंदों में 45 रन बनाकर आउट हुए। निचले क्रम में और कोई बल्लेबाज बड़ी पारी खेलने में सफल नहीं हुआ और मुंबई की पूरी टीम 57.3 ओवर में 269 रन के स्कोर पर सिमट गई। मध्य प्रदेश के लिए कुमार कार्तिकेय ने सबसे ज्यादा 4 विकेट हासिल किये। इसके अलावा गौरव यादव और पार्थ साहनी ने भी 2-2 विकेट चटकाए।

पहली पारी की बढ़त के आधार पर मध्य प्रदेश को 108 रन का लक्ष्य मिला। दूसरी पारी में टीम की शुरुआत खराब रही और पहली पारी में शतक बनाने वाले यश दुबे महज 1 रन बनाकर आउट हो गए। हिमांशु मंत्री और शुभम शर्मा ने अर्धशतकीय साझेदारी की। हिमांशु और शुभम क्रमशः 37 और 30 रन बनाकर आउट हुए। अंत में रजत पाटीदार ने 30 रनों की नाबाद पारी खेल अपनी टीम को जीत दिलाई। मुंबई के लिए दूसरी पारी में शम्स मुलानी ने सबसे ज्यादा 3 विकेट लिए।

इससे पहले मुंबई ने अपनी पहली पारी में 374 रन बनाये थे। वहीं मध्य प्रदेश ने 536 रन का विशाल स्कोर बनाया था।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...