वेस्टइंडीज दौरे के लिए टीम में वापसी करना चाहूंगा : मनीष पांडे

Rahul

आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी 2017 में चोटिल होने के कारण भारतीय टीम से बाहर हुए मनीष पांडे ने वेस्टइंडीज दौरे के लिए टीम में वापसी करने का लक्ष्य बनाया है। पांडे को चैंपियंस ट्रॉफी से पहले साइड स्ट्रेन चोट से जूझना पड़ा, जिसके कारण उनको चैंपियंस ट्रॉफी से बाहर होना पड़ा था। दाएँ हाथ के बल्लेबाज ने चैंपियंस ट्रॉफी से बाहर होने के प्रति अपनी नाराजगी जाहिर की है, उन्होंने यह उम्मीद जताई है कि वह जल्द से जल्द इस चोट से उभर जाएँगे और 2 हफ्तों में मैदान में खेलते नजर आएँगे। इंडियन प्रीमियर लीग 2017 के दौरान कोलकाता नाइटराइडर्स की तरफ से खेलते हुए प्लेऑफ मैच से पहले अभ्यास सत्र के दौरान उनको बाए पैर में चोट आई थी, जिसके कारण वह शेष मैचों में नहीं खेल पाए थे। चोट के कारण चैंपियंस ट्रॉफी के चुने जाने के बाद पांडे को भारतीय टीम से बाहर होना पड़ा और उनके स्थान पर दिनेश कार्तिक को टीम में लाया गया। मनीष पांडे ने आईपीएल में केकेआर की तरफ से शानदार प्रदर्शन किया था। चोटिल होने के कारण पांडे भारत के लिए अपने केरियर का पहला आईसीसी टूर्नामेंट खेलने में असफल रहे। उनका टीम में होना टीम की बल्लेबाजी को मजबूती प्रदान करना होता। वह मिडिल ऑर्डर के बेहतरीन बल्लेबाज हैं। पांडे के स्थान पर चुने गए दिनेश कार्तिक ने चैंपियंस ट्रॉफी के अभ्यास मैच में बांग्लादेश के खिलाफ उम्दा प्रदर्शन किया है। चैंपियंस ट्रॉफी के बाद भारतीय टीम वेस्टइंडीज का दौरा करेगी, जिसपर मनीष पांडे की निगाहें बनी हुई। भारतीय टीम वेस्टइंडीज के खिलाफ 5 वनडे और 1 टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैच खेलने जा रही है, जिसकी शुरुआत जून के अंत में होगी। पिछले कुछ सालों में मनीष पांडे ने भारत के लिए उम्दा प्रदर्शन किया है। उनकी टीम में वापसी उनकी प्रतिभा के अनुसार सही मानी जा सकती है। टीम में वापसी को लेकर मनीष पांडे पूरी तरह से मैदान में प्रदर्शन करने को तैयार है।

Edited by Staff Editor