Create

मार्लोन सैमुअल्स को आईसीसी के नियमों के उल्लंघन का पाया गया दोषी

वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के धाकड़ बल्लेबाज मार्लोन सैमुअल्स को आईसीसी के नियमों के उल्लंघन का दोषी पाया गया है। सैमुअल्स को आईसीसी कोड ऑफ कंडक्ट के लेवल वन के नियम के उल्लंघन का दोषी पाया गया है और इसके लिए उन पर एक डिमेरिट प्वाइंट लगाया गया है, साथ ही उनको चेतावनी भी दी गई है। ये वाकया वेस्टइंडीज और जिम्बाब्वे के बीच 19 मार्च को हरारे में हुए विश्व कप क्वालीफायर मैच के दौरान का है।
उन्हें आर्टिकल 2.1.8 के तहत दोषी पाया गया है जिसके तहत अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के दौरान क्रिकेट के सामान, ग्राउंड के सामान को नुकसान पहुंचाना है।जिम्बॉब्वे के खिलाफ मैच के दौरान सैमुअल्स ने अपने बल्ले से 30 यार्ड घेरे के डिस्क को नुकसान पहुंचाया था। पवेलियन लौटते वक्त उन्होंने ये हरकत की थी। इसके बाद मैदान पर मौजूद अंपायरों माइकल गौ और सिमोन फ्राई, तीसरे अंपायर एड्रियन होल्डस्टोक और चौथे अंपायर पॉल विल्सन ने उनको दोषी पाते हुए उनके खिलाफ कार्रवाई की। सैमुअल्स ने मैच रेफरी द्वारा अपने ऊपर लगाए गए आरोपों को स्वीकार कर लिया इसलिए आगे सुनवाई की जरुरत नहीं पड़ी। ये डिमेरिट प्वाइंट सैमुअल्स के ऊपर 24 महीने तक लगा रहेगा और इस दौरान 4 या उससे ज्यादा डिमेरिट प्वाइंट होने पर उनको निलंबित भी किया जा सकता है।
गौरतलब है विश्व कप क्वालीफायर के मैच में जिम्बाब्वे ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 289 रनों का स्कोर खड़ा किया था। ब्रेंडन टेलर ने 138 रनों की बेहतरीन पारी खेली थी। जवाब में मार्लोन सैमुअल्स ने 86 रनों की बेहतरीन पारी खेलकर अपनी टीम को जीत दिला दी। उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया। हालांकि उनके इस हरकत के बाद जीत का ये मजा किरकिरा हो गया। सुपर सिक्स में फ़िलहाल वेस्टइंडीज 6 अंकों के साथ टॉप पर है। ज़िम्बाब्वे पांच अंकों के साथ दूसरे, स्कॉटलैंड पांच अंकों के साथ तीसरे, आयरलैंड 4 अंकों साथ चौथे, अफगानिस्तान 2 अंको के साथ पांचवें और यूएई खाता खोले बिना आखिरी स्थान पर है। मौजूदा स्थिति में वेस्टइंडीज और ज़िम्बाब्वे के क्वालीफाई करने की संभावनाएं ज्यादा है, क्योंकि उनके अगले मैच क्रमशः स्कॉटलैंड और यूएई के खिलाफ है।

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment