Create

मयंक अग्रवाल बने लिस्ट ए सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय खिलाड़ी

सावन गुप्ता

मयंक अग्रवाल किसी एक सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं। उन्होंने सचिन तेंदुलकर के 2003 विश्व कप में बनाए गए सबसे ज्यादा रनों का रिकॉर्ड तोड़ा। विजय हजारे ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में सौराष्ट्र के खिलाफ 90 रनों की पारी के दौरान उन्होंने ये उपलब्धि हासिल की। सचिन ने 2003 विश्व कप के 11 मैचो में 61 की औसत से 673 रन बनाए थे।मयंक अग्रवाल ने विजय हजारे ट्रॉफी के 8 मैचो में ही 723 रन बना डाले जिसमें तीन शतक और चार अर्धशतक शामिल हैं। सेमीफाइनल मुकाबले में उन्होंने दिनेश कार्तिक के विजय हजारे ट्रॉफी के एक सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड तोड़ा था। अब वो लिस्ट ए सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं। मयंक अग्रवाल ने इस प्रतियोगिता में 109, 84, 28, 102, 89, 140, 81 और 90 रन की पारी खेली। इसके अलावा मयंक अग्रवाल विजय हजारे ट्रॉफी एक सीजन में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले बल्लेबाज भी बन गए हैं। उन्होंने इस प्रतियोगिता में कुल मिलाकर 18 छक्के लगाए और श्रीवत्स गोस्वामी के 14 छक्कों का रिकॉर्ड तोड़ा। इसके अलावा एक सीजन में 2 हजार से ज्यादा रन बनाने वाले वो पहले भारतीय खिलाड़ी बन गए हैं। बेंगलुरु में बड़ौदा के खिलाफ शतक लगाकर उन्होंने अपने विजय हजारे ट्रॉफी के सीजन की शुरुआत की थी। इसके बाद असम के खिलाफ उन्होंने 84 रनों की पारी खेली थी। पंजाब के खिलाफ मैच में 28 रन उनका न्यूनतम स्कोर रहा लेकिन ओडिशा के खिलाफ अगले ही मैच में शतक लगाकर उन्होंने फिर से वापसी की और रेलवे के खिलाफ भी 89 रनों की पारी खेली। हैदराबाद के खिलाफ क्वार्टरफाइनल मैच में मयंक ने 140 रनों की बेहतरीन पारी खेली और महाराष्ट्र के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में 81 रन बनाए। सभी प्रारुपों को मिलाकर अग्रवाल इस सीजन में 2141 रन बना चुके हैं। अगले महीने देवधर ट्रॉफी का आयोजन होना है और मयंक अग्रवाल अपने इस आंकड़े को और बेहतर बना सकते हैं। अपने इस शानदार प्रदर्शन के दम पर वो भारतीय टीम में भी जगह बनाने की उम्मीद कर रहे होंगे।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...