COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

क्रिकेट न्यूज़: टेस्ट क्रिकेट को मिल सकती है फ्री हिट, एमसीसी ने रखा प्रस्ताव 

Richa Gupta
TOP CONTRIBUTOR
न्यूज़
534   //    Timeless

Enter caption

टेस्ट क्रिकेट को रोमांचक बनाने के लिए एमसीसी वर्ल्ड क्रिकेट कमिटी ने कई प्रस्ताव तैयार किए हैं। इनमें सबसे खास नो बॉल पर फ्री हिट को शामिल करना और काउंट डाउन क्लॉक लगाने जैसे प्रस्ताव हैं। आठ और नौ मार्च को एमसीसी वर्ल्ड क्रिकेट कमिटी की बेंगलुरू में बैठक हुई थी। इस दौरान टेस्ट क्रिकेट में दर्शकों का रोमांच बनाए रखने के लिए कई प्रस्ताव रखे गए। सुनने में आ रहा है कि कमिटी ने विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के लिए बढ़िया लाल गेंद का इस्तेमाल करने की सिफारिश की है, जिसकी शुरुआत 2019 में वेस्टइंडीज और भारत के बीच होने वाली सीरीज के साथ होगी। हालांकि, अभी ये सारे प्रस्ताव आईसीसी के सामने विचार के लिए रखे जाएंगे। उसके बाद ही अंतिम फैसला होगा। 

कमिटी ने टेस्ट क्रिकेट की गिरती लोकप्रियता की वजह से फ्री हिट को शामिल करने का प्रस्ताव रखा है। कमिटी का सुझाव है कि इसे टेस्ट में लागू करने से रोमांच बढ़ेगा। साथ ही गेंदबाजों की ओवरस्टेपिंग पर लगाम लगेगी, जिससे ओवर रेट कायम रहेगा। बैठक में टेस्ट मैच के दौरान धीमी गति से गेंदबाजी करने के मुद्दे को प्रमुखता से उठाया गया। विचार रखे गए कि अमूमन बहुत से क्रिकेट खेलने वाले देशों में स्पिनर की भूमिका उतनी बड़ी नहीं है, जितनी होनी चाहिए। तेज गेंदबाजों की अधिकता की वजह से ऐसा होना संभव नहीं हो पाता है। एक हालिया सर्वेक्षण के आधार पर सुझाव दिया गया कि टेस्ट मैचों में दर्शकों की घटती संख्या की वजह धीमी गति से गेंदबाजी करना है। 30 मिनट अतिरिक्त लेने के बावजूद एक टीम पूरे दिन बस 90 ओवर डालती है। मई-2018 के आंकड़े बताते हैं कि पिछले एक साल में औसतन ओवर रेट पिछले ग्यारह साल में सबसे धीमा रहा है। इसमें औसतन 13.77 ओवर प्रति घंटा की दर से गेंदबाजी की गई।  

Enter caption

इसी को देखते हुए बैठक में ओवर के बीच में एक काउंट डाउन क्लॉक लगाने का प्रस्ताव रखा गया। इसके तहत क्षेत्ररक्षण कर रही टीम को अगला ओवर शुरू करने के लिए 45 सेकंड का समय मिलेगा। इसे लागू न करने पर टीम को चेतावनी दी जाएगी। काउंट डाउन क्लॉक के तहत विकटों के गिरने के बाद दूसरे बल्लेबाज के आने की समयसीमा भी निर्धारित करने का सुझाव है। हालांकि, यह समय ड्रेसिंग रूम से पिच की दूरी और ड्रिंक्स के आधार पर अलग-अलग तय होगी। उसी निर्धारित समय में खिलाड़ियों को फील्डिंग सेट करके गेंदबाजी करनी है और बल्लेबाज को पिच पर पोजिशन लेनी है।


Hindi cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

Advertisement
Advertisement
Fetching more content...