Create
Notifications

मेंडिस और थरंगा ने श्रीलंका को ट्राई सीरीज का चैंपियन बनाया

Abhishek Tiwary

श्रीलंका ने रविवार को ट्राई सीरीज के फाइनल में ज़िम्बाब्वे को 75 गेंद शेष रहते 6 विकेट से हरा दिया। ज़िम्बाब्वे ने पहले बल्लेबाजी की 36.3 ओवर में पूरी टीम 160 रन पर ऑलआउट हो गई। जवाब में श्रीलंका ने 37.3 ओवर में चार विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया। कुसल मेंडिस (57 रन) को शानदार अर्धशतकीय पारी खेलने के लिए मैन ऑफ़ द मैच चुना गया। ट्राई सीरीज में तीसरी टीम वेस्टइंडीज की थी, जिसे शुक्रवार को ज़िम्बाब्वे ने वर्षाबाधित मुकाबले में डकवर्थ लुईस नियम के आधार पर हराकर फाइनल में प्रवेश किया था। ज़िम्बाब्वे के कप्तान ग्रीम क्रेमर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। उनका यह फैसला तब गलत होते दिखा जब 19 रन के स्कोर पर दोनों ओपनर हैमिलटन मसकाद्जा (10) और पीटर मूर (1) पवेलियन लौट गए। कुलसेकरा ने मसकाद्जा को LBW आउट किया और लकमल ने मूर को पथिराना के हाथों कैच आउट कराया। इसके बाद तारिसी मुसकंडा (36) ने क्रैग इरविन (25) के साथ तीसरे विकेट के लिए 53 रन की साझेदारी की। दोनों अच्छी लय हासिल करते इससे पहले वंडरसे ने मुसकंडा और इरविन को अपना शिकार बना लिया। सिकंदर रजा (5) को पथिराना ने LBW आउट कर दिया। शॉन विलियम्स (35) ने एक छोर संभाला, लेकिन दूसरे छोर से उन्हें किसी का साथ नहीं मिला। मालकॉम वालर (14), कप्तान ग्रीम क्रेमर (9) और तेंदाई चिसोरो (5) जल्दी-जल्दी आउट हुए। विलियम्स भी गुनारात्ने की गेंद पर मेंडिस को कैच थमाकर पवेलियन लौट गए। डोनाल्ड तिरिपानो 10 रन बनाकर नाबाद रहे, लेकिन ज़िम्बाब्वे स्कोरबोर्ड पर बड़ा स्कोर टांगने में नाकाम रहा। श्रीलंका की ओर से वंडरसे और गुनारात्ने ने तीन-तीन जबकि पथिराना ने दो विकेट लिए। कुलसेकरा और लकमल को एक-एक विकेट मिला। 161 रन के आसान लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंका की शुरुआत भी ख़राब रही। धनंजय डी सिल्वा बिना खाता खोले विटोरी की गेंद पर LBW आउट हो गए। इसके बाद कुसल परेरा (14) और रोशन डिकवेला (16) भी सस्ते में आउट हुए। विटोरी ने इन तीनों बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया। मगर यहां से कुसल मेंडिस ने कप्तान उपुल थरंगा (57*) के साथ मिलकर टीम को जीत के करीब पहुंचाया। मेंडिस ने अपना अर्धशतक पूरा किया और फिर क्रेमर की गेंद पर विलियम्स को कैच देकर पवेलियन लौटे। मेंडिस ने 72 गेंदों में 10 चौको की मदद से 57 रन बनाए। कप्तान थरंगा ने असेला गुनारात्ने (16*) के साथ मिलकर मिलकर टीम की जीत पर मुहर लगाईं। थरंगा ने 98 गेंदों में 6 चौके व एक छक्के की मदद से 57 रन की मैच विजयी पारी खेली। ज़िम्बाब्वे की ओर से ब्रायन विटोरी ने तीन जबकि ग्रीम क्रेमर ने एक विकेट लिया।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...