Create

माइकल वॉन ने भारत को चौथे टेस्ट से इस दिग्गज खिलाड़ी को टीम से बाहर करने की दी सलाह 

अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा दोनों ही बल्लेबाज लम्बे समय आलोचकों के निशाने पर हैं
अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा दोनों ही बल्लेबाज लम्बे समय आलोचकों के निशाने पर हैं

हेडिंग्ले टेस्ट (ENG vs IND) में भारतीय बल्लेबाजों के खराब प्रदर्शन के बाद सीनियर बल्लेबाजों पर उंगलियां उठनी शुरू हो गई हैं और इसी कड़ी में अब भारत के उप कप्तान अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) का नाम भी शामिल हो गया है। अजिंक्य रहाणे पिछले काफी समय से बल्लेबाजी के दौरान संघर्ष कर रहे हैं। मौजूदा सीरीज में भी लॉर्ड्स टेस्ट में उनकी अर्धशतकीय पारी को छोड़ दें तो वह लंबे समय से बड़ी पारी नहीं खेल पाए हैं। अजिंक्य रहाणे के लंबे समय से खराब प्रदर्शन के कारण इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने भारत से चौथे टेस्ट में अपने इस दिग्गज खिलाड़ी को ड्रॉप करने को कहा है।

अजिंक्य रहाणे पिछले आठ टेस्ट मैचों में महज दो अर्धशतक लगा पाए हैं। इसके अलावा मौजूदा टेस्ट सीरीज की 5 पारियों में 19 की साधारण औसत से 95 रन बनाये हैं। ऐसे में स्क्वॉड में शामिल अन्य खिलाड़ियों को टीम शामिल किये जाने की मांग उठ रही है।

माइकल वॉन का मानना है कि रहाणे भारत के लिए एक समस्या बन चुके हैं और भारतीय टीम को भी इंग्लैंड की तरह कड़े कदम उठाते हुए खराब फॉर्म में चल रहे इस खिलाड़ी को बाहर करना चाहिए। गौरतलब है कि इंग्लैंड ने भी जैक क्रॉली और सिबली को खराब फॉर्म के कारण तीसरे टेस्ट से पहले टीम से बाहर का रास्ता दिखाया था।

क्रिकबज में हर्षा भोगले के साथ साथ इस बारे में बात करते हुए कहा,

"रहाणे एक समस्या हैं। और मुझे लगता है कि जब आप इन चीजों को होते हुए देखते हैं तो आपको एक बदलाव करना होगा। इंग्लैंड ने बदलाव किए क्रॉली और सिबली को हटा दिया। मुझे लगता है कि भारत को ओवल में बदलाव करने की जरूरत है। रहाणे का इसलिए समर्थन किया जा रहा है क्योंकि वह उप कप्तान हैं या फिर उन्होंने पहले कुछ अच्छी पारियां खेली हैं। रही बात निरंतरता की तो मुझे वह नहीं दिखाई दे रही।"

कप्तान कोहली ने दिए ओवल में बदलाव के संकेत

हेडिंग्ले टेस्ट में हार के बाद विराट कोहली जब प्रेस कॉन्फ्रेंस में आये तो उन्होंने गेंदबाजों को लेकर रोटेशन की बात की। कोहली का मानना है कि आपके प्रमुख तेज गेंदबाज लगातार पांच टेस्ट नहीं खेल सकते हैं।

देखना दिलचस्प होगा कि गेंदबाजी के अलावा क्या विराट बल्लेबाजी में भी किसी खिलाड़ी को बाहर किसी अन्य खिलाड़ी को प्लेइंग XI में खिलाएंगे या फिर अपने बल्लेबाजों पर एक बार फिर भरोसा दिखाएंगे।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment