Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

वर्ल्ड कप में जीत के साथ विदाई चाहती हैं मिताली राज

मिताली राज
मिताली राज
SENIOR ANALYST
Modified 14 Jun 2020, 10:48 IST
न्यूज़
Advertisement

भारतीय महिला वनडे टीम की कप्तान मिताली राज वर्ल्ड कप में जीत के साथ विदाई चाहती हैं। अगले साल महिला टीम का वनडे का वर्ल्ड कप होना है और ये मिताली राज का आखिरी वर्ल्ड कप भी साबित हो सकता है। ऐसे में मिताली राज चाहती हैं कि उनकी जीत के साथ विदाई हो।

आज तक के कार्यक्रम 'सलाम क्रिकेट' में बातचीत के दौरान मिताली राज ने कहा ' मैं ऐसा जरुर चाहुंगी। ये मेरा आखिरी वर्ल्ड कप रहेगा और मैं चाहुंगी कि भारतीय टीम इस बार खिताब जरुर अपने नाम करे। इससे भारत में वुमेंस क्रिकेट को काफी बढ़ावा मिलेगा। 2017 में जब हम लोग फाइनल तक पहुंचे थे, तब से लेकर अब तक महिला क्रिकेट में काफी सुधार हुआ है। लेकिन हमें कम से कम एक आईसीसी की ट्रॉफी चाहिए। अगर भारत आईसीसी की ट्रॉफी जीतता है तो फिर ये काफी शानदार रहेगा और उससे युवा लड़कियों को काफी प्रेरणा मिलेगी।

ये भी पढ़ें: श्रीलंका या यूएई में आईपीएल का आयोजन कराया जा सकता है-सुनील गावस्कर

मिताली राज ने आगे कहा कि मैं चाहती हूं कि भारत 2021 वर्ल्ड कप को जीते लेकिन उसके लिए काफी अच्छी तैयारी करनी पड़ेगी। वर्ल्ड कप से पहले हमें अच्छी तरह से सभी चीजों की तैयारी करनी पड़ेगी।

मिताली राज ने बताया कि कैसे अब महिला क्रिकेटरों को ज्यादा एक्सपोजर मिलता है

मिताली राज ने कहा कि अब खिलाड़ियों को काफी ज्यादा एक्सपोजर मिलता है। जब मैंने अपना डेब्यू किया था तो काफी सारी चीजें टूर के दौरान सीखी थीं। लेकिन आज के दौर में अगर शेफाली वर्मा जैसे खिलाड़ियों को देखें तो उनके पास वुमेंस चैलेंजर ट्रॉफी है, डोमेस्टिक मैच हैं तो इससे उन्हें काफी ज्यादा एक्सपोजर मिल जाता है। इससे उनका आत्मविश्वास काफी बढ़ जाता है। हमारे समय में एनसीए जैसी वर्ल्ड क्लास फैसिलिटी भी नहीं थी। अगर एक युवा खिलाड़ी को शुरुआत में ही प्रोफेशनल तौर पर ग्रूम किया जाता है तो जब वो अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहुंचते हैं तो उनका आत्मविश्वास काफी ज्यादा रहता है।

ये भी पढ़ें: शुभमन गिल ने बताया, कैसे हार्दिक पांड्या ने उन्हें स्लेज किया था

आपको बता दें कि मिताली राज ने अपने करियर में कुल 10 टेस्ट, 209 वनडे और 89 टी20 मुकाबले खेले हैं। इस दौरान उन्होंने 663, 6883 और 2364 रन बनाए हैं। टेस्ट और वनडे में उनका औसत 50 का रहा है। 2017 में उनकी कप्तानी में भारतीय टीम ने वर्ल्ड कप फाइनल तक का सफर तय किया था।

Published 14 Jun 2020, 10:48 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit