Create
Notifications

'ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने मुझे 'ओसामा' कहा था'

SENIOR ANALYST
Modified 21 Sep 2018
ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को मैदान पर स्लेजिंग करते हुए कई बार आपने देखा और सुना होगा। ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी इसके लिए जाने जाते हैं और अक्सर मैदान पर वो विपक्षी टीम के खिलाफ ये हथियार आजमाते हैं। अब इस मामले में एक बड़ा खुलासा हुआ है। इंग्लैंड के दिग्गज क्रिकेटर ने ऑस्ट्रेलिया के एक खिलाड़ी पर नस्लभेदी टिप्पणी करने का आरोप लगाया है। इंग्लैंड के ऑलराउंड मोईन अली ने आरोप लगाया है कि 2015 की एशेज सीरीज के दौरान एक ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने उन्हें 'ओसामा बिन लादेन' कहा था। मोईन अली ने इस घटना का जिक्र अपनी ऑटोबायोग्राफी में किया है। उनके किताब के एक अध्याय में लिखा है कि मैं अपना पहला एशेज सीरीज खेल रहा था और मेरा प्रदर्शन काफी अच्छा रहा था। हालांकि एक घटना ने मुझे झकझोर कर रख दिया। कार्डिफ में हुए मैच में एक ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने मुझसे कहा कि 'उसे पकड़ो ओसामा'। ये सुनकर मैं हैरान रह गया और विश्वास नहीं कर पा रहा था कि मुझसे ऐसा कहा गया है। मैं गुस्से में लाल हो गया। मैदान पर उतना गुस्सा मुझे कभी नहीं आया था। मैंने इसके बारे में कई खिलाड़ियों से जिक्र किया और मुझे लगता है कि ट्रेवर बेलिस ने इसकी शिकायत ऑस्ट्रेलिया के कोच डेरेन लेहमैन से की। जब लेहमैन ने उस खिलाड़ी से पूछा तो उसने साफ मना कर दिया और कहा कि उसने ऐसा कुछ नहीं कहा था। उसने कहा कि मैंने सिर्फ ये कहा था इसे पकड़ो पार्ट टाइमर। मोईनी अली ने आगे लिखा कि पूरे मैच में मेरा गुस्सा गया नहीं। मुझे लगता था कि ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ऐसे होते हैं लेकिन उनसे इस तरह के बुरे बर्ताव की उम्मीद कतई नहीं थी। यहां तक कि प्रैक्टिस मैच में भी मुझे इस तरह के कमेंट सुनने को मिले थे। गौरतलब है मोईन अली पाकिस्तानी मूल के इंग्लिश खिलाड़ी हैं। उनका जन्म बर्मिंघम में ही हुआ और वो वहीं पर पले-बढ़े। इंग्लैंड के लिए 52 टेस्ट मैचों में उन्होंने अब तक 145 विकेट चटकाए हैं।
Published 15 Sep 2018
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now