Create
Notifications

2003 वर्ल्डकप के मुक़ाबले में शाहिद आफ़रीदी ने हमें ख़ूब गालियां दी थीं: मोहम्मद कैफ़

विनय प्रताप

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज मोहम्मद कैफ ने एक ट्वीट में खुद पर स्लेजिंग को लेकर दूसरा बड़ा खुलासा किया है। कैफ ने ट्वीट करते हुए बताया कि पाकिस्तानी खिलाड़ियों ने 2003 वर्ल्ड कप के दौरान उन्हें जमकर गालियां दी थीं। हुआ यूं कि मोहम्मद कैफ ने अपने प्रशंसकों को ट्विटर पर सवाल पूछने के लिए आमंत्रित किया था। इसी दौरान अमन आलोक नाम के एक प्रशंसक ने पूछ लिया " क्या आप किसी पाकिस्तानी खिलाड़ी द्वारा स्लेजिंग के शिकार हुए हैं , जिस तरह से आप ने मोहम्मद यूसुफ के साथ किया था?"

इस प्रश्न के जवाब में मोहम्मद कैफ ने सेंचुरियन में खेले गए इस मुकाबले में पाकिस्तानी खिलाड़ी तौफीक उमर, शाहिद आफरीदी और अजहर महमूद का नाम लिया है। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए पाकिस्तान ने 273 रन बनाए थे। वहीं सचिन तेंदुलकर ने 98, राहुल द्रविड (50) और युवराज सिंह (44) ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए भारत को 6 विकेट से जीत दिलाई थी।

इससे पहले कैफ इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन पर भी स्लेजिंग का आरोप लगा चुके हैं। इस बारे में भी एक फैन ने पूछा था " नैटवेस्ट सीरीज के फाइनल में आप और युवी क्या बात कर रहे थे? क्या इंग्लैंड के खिलाड़ियों द्वारा किसी प्रकार की कोई स्लेजिंग हुई थी?

इस सवाल का जवाब कैफ ने हां में दिया। फैन की आशंका का जवाब देते हुए कैफ ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा – ”जी बिल्कुल, इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने मुझे बस ड्राइवर कहकर पुकारा था।” 326 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने 40 रनों के भीतर ही अपने पांच विकेट गंवा दिए। 146 रनों पर भारतीय टीम के पांच बल्लेबाजों के आउट होने के बाद युवराज सिंह और मोहम्मद कैफ की जोड़ी ने 121 रनों की अहम साझेदारी कर टीम को जीत के करीब पहुंचाने का काम किया था।इस बात से खफा इंग्लैंड के खिलाड़ी उन्हें आउट करने के लिए बार-बार उकसा रहे थे।इस साझेदारी ने टीम को 267 रनों तक पहुंचा दिया। हालांकि, इसके बाद युवी 69 रन बनाकर आउट हो गए, लेकिन कैफ टीम को जीत दिलाकर नाबाद रहे। वो 87 रनों की नाबाद पारी महज 75 गेंदों में खेल पवेलियन लौटे।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...