Create

मोर्ने मोर्कल ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का किया ऐलान

सावन गुप्ता

दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज मोर्ने मोर्कल ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू श्रृंखला के बाद वो अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह देंगे। मोर्कल ने साल 2006 में भारत के खिलाफ डरबन टेस्ट से अपना डेब्यू किया था। उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के लिए 83 टेस्ट, 117 वनडे और 44 टी20 मैच खेले। क्रिकेट साउथ अफ्रीका ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी।

मोर्कल ने कहा कि मेरे लिए ये काफी कड़ा फैसला था लेकिन मुझे लगता है कि जीवन की नई पारी की शुरुआत के लिए ये सही समय है। इस समय के अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के शेड्यूल को देखते हुए ये सही फैसला है क्योंकि मैं अपने परिवार के लिए वक्त नहीं निकाल पा रहा था। मोर्कल ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका के लिए खेलते वक्त मैंने हर एक पल का लुत्फ उठाया और टीम के अपने सभी साथी खिलाड़ियों का मैं आभार प्रकट करता हूं। जिस तरह का सपोर्ट और प्यार उन्होंने मुझे दिया उसके लिए मैं उनका आभारी हूं।

मोर्कल ने 83 टेस्ट मैचो में 28.08 की औसत से कुल 294 विकेट अभी तक लिए हैं। इस दौरान उन्होंने 7 बार 5 विकेट लेने का कारनामा किया। न्यूजीलैंड के खिलाफ वेलिंग्टन टेस्ट में 23 रन देकर 6 विकेट उनके टेस्ट करियर का अभी तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन रहा है। वहीं अभी तक खेले 117 एकदिवसीय मैचो में उन्होंने 25.32 की औसत से 118 विकेट चटकाए हैं। इस दौरान 21 रन देकर 5 विकेट उनका सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन रहा। वहीं 44 टी20 मैचो में मोर्कल ने 25.34 की औसत से 47 विकेट चटकाए। टी20 में 17 रन देकर 4 विकेट उनका सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन रहा है।
मोर्ने मोर्कल ने डेल स्टेन और वर्नन फिलेंडर के साथ मिलकर आधुनिक युग के क्रिकेट की खतरनाक गेंदबाजी जोड़ी बनाई। उन्होंने अपनी गेंदबाजी से कई मैचो में प्रोटियाज टीम को जीत दिलाई। ग्रीम स्मिथ की कप्तानी में अपने करियर की शुरुआत करने वाले मोर्कल ने दक्षिण अफ्रीका एकादश की तरफ से भी मैच खेला।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...