भारत के लिए टी20 इंटरनेशनल में अब तक सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले 3 गेंदबाज

कप्तान कोहली और जसप्रीत बुमराह
कप्तान कोहली और जसप्रीत बुमराह

भारत में टी20 क्रिकेट को काफी फॉलो किया जाता है। हर एक फैन इस फॉर्मेट को देखना पसंद करता है क्योंकि यहां कम गेंदों में ज्यादा रन बनते हैं। इसके अलावा हमें बड़े शॉट्स और ढेरों बाउंड्रीज देखने को मिलती है। टी20 क्रिकेट में आजकल बैट्समैन के साथ ही बॉलर्स भी अहम रोल अदा करते हैं।

अगर इनिंग की शुरुआत में विकेट्स गिरते हैं तो फिर रन बनना मुश्किल हो जाता है। इस वजह से टी20 में रनों के साथ विकेट का भी महत्व है। टी20 फॉर्मेट में आजकल बहुत प्रतियोगिता हो गयी है। हर देश के पास कई सारे स्पेसलिस्ट बॉलर्स हैं।

भारत की ओर से कई सारे खिलाड़ियों को टी20 स्क्वाड में जगह मिली है। इस दौरान कुछ ऐसे भी खिलाड़ी रहे हैं जिन्होंने इंटरनेशनल टी20 मैचों में भारत के लिए अच्छी बॉलिंग करते हुए सबसे ज्यादा विकेट लिए हैं। इसलिए आइए नजर डालते हैं भारत की ओर से टी20 इंटरनेशनल्स में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले टॉप 3 बॉलर्स पर।

#3 जसप्रीत बुमराह- 51 विकेट

भारत के जबरदस्त तेज गेंदबाज बुमराह
भारत के जबरदस्त तेज गेंदबाज बुमराह

जसप्रीत बुमराह को भारत का सबसे खतरनाक गेंदबाज माना जाता है, वह डेथ ओवर स्पेशलिस्ट है। बुमराह ने 2016 में भारत की ओर से पहला टी20 मैच खेला था। उन्हें IPL में जबरदस्त प्रदर्शन की वजह से जगह मिली थी। अभी तक बुमराह ने अपने देश के लिए 42 मैच खेले हैं और इस दौरान वह 51 विकेट लेने में सफल हुए हैं।

उनका बॉलिंग एवरेज लगभग 20 का है और वह लगातार 140 किलोमीटर प्रति घन्टे की रफ्तार के साथ गेंदबाजी कर सकते हैं। जसप्रीत बुमराह ने एक मैच में सिर्फ 11 रन देकर 3 विकेट लिए थे और यह उनका बेस्ट बॉलिंग फिगर है। फिलहाल यह खिलाड़ी बुरी तरह चोटिल है और अपनी की तैयारी कर रहा है।

#2 रविचंद्रन अश्विन- 52 विकेट्स

T20 स्पेशलिस्ट आर अश्विन
T20 स्पेशलिस्ट आर अश्विन

रविचंद्रन अश्विन को कुछ सालों पहले तक टी20 टीम का अहम हिस्सा माना जाता था। बहुत लंबे समय से अश्विन भारतीय टीम का हिस्सा नहीं बने हैं। अश्विन टी20 इंटरनेशनल में 46 मैच खेल चुके हैं। इसके साथ ही वह 52 विकेट लेने में सफल हुए हैं।

इस ऑफ स्पिनर ने 2010 में टी20 में डेब्यू किया था और वह 2017 तक टीम का हिस्सा रहे। उन्होंने एक मुकाबले में सिर्फ 8 रन देकर 4 विकेट्स लिए थे और यह उनका बेस्ट बॉलिंग फिगर है।

2017 के बाद अचानक से भारतीय सेलेक्टर्स ने रिस्ट स्पिनर्स को हटाकर लेग स्पिनर्स को टीम में लाने का निर्णय लिया। मैनेजमेंट का यह फैसला अच्छा साबित हुआ क्योंकि युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने टी20 और ODI में बढ़िया प्रदर्शन किया है। आर अश्विन के टी20 टीम में वापसी के काफी कम चांस है।

#1 युजवेंद्र चहल- 52 विकेट

चहल
चहल

युजवेंद्र चाहल को IPL की मदद से भारतीय टीम में आने का मौका मिला था। इस खिलाड़ी ने 2016 में डेब्यू किया था। युजवेंद्र चहल ने भारत के लिए अबतक 36 मैच खेले हैं और वह 52 विकेट ले पाए हैं।

ज्यादा कॉम्पिटिशन होने की वजह से चहल टीम से अंदर-बाहर होते रहते हैं। उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ एक टी20 मैच में सिर्फ 25 रन देते हुए 6 विकेट लिए थे। वह टी20 में 6 विकेट लेने वाले 3 बॉलर्स में एक है। भारतीय टीम अक्सर चहल का पावरप्ले खत्म होने के बाद उपयोग करती है।

चहल के पास अभी एक लंबा टी20 करियर बचा है और वह जरूर कुछ अच्छा करना चाहेंगे। अश्विन और चहल दोनों ने ही 52 विकेट लिए हैं लेकिन चहल ने यह काम 36 मैचों में किया वहीं अश्विन ने 46 मैचों में। इस वजह से उनका नाम टॉप पर है।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma