Create

एम एस धोनी कैच काफी ज्यादा छोड़ते थे, पाकिस्तान के पूर्व विकेटकीपर का चौंकाने वाला बयान

एम एस धोनी दुनिया के सफलतम विकेटकीपर्स में से एक थे
एम एस धोनी दुनिया के सफलतम विकेटकीपर्स में से एक थे
reaction-emoji
·
सावन गुप्ता

भारतीय टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज एम एस धोनी (Ms Dhoni) को लेकर एक चौंकाने वाली प्रतिक्रिया सामने आई है। पाकिस्तान के पूर्व विकेटकीपर राशिद लतीफ ने कहा है कि अन्य दिग्गज विकेटकीपरों की तुलना में एम एस धोनी ज्यादा कैच ड्रॉप करते थे।

एम एस धोनी की गिनती दुनिया के दिग्गज विकेटकीपर्स में होती है। उन्होंने अपनी कीपिंग से कई बड़े रिकॉर्ड कायम किए। खासकर उनकी स्टंपिंग काफी लाजवाब होती थी। हालांकि राशिद लतीफ का मानना है कि धोनी की कैचिंग सही नहीं थी।

एम एस धोनी का ड्रॉपिंग परसेंटेज ज्यादा है - राशिद लतीफ

अपने यू-ट्यूब चैनल पर बातचीत के दौरान राशिद लतीफ ने एम एस धोनी के विकेटकीपिंग को लेकर प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा,

एम एस धोनी बैट्समैन विकेटकीपर थे। निश्चित तौर पर वो एक बड़ा नाम हैं लेकिन अगर मैं परसेंटेज की बात करूं तो उनका ड्रॉपिंग परसेंटेज 21 प्रतिशत था, जो काफी बड़ा मार्जिन है। एडम गिलक्रिस्ट का परसेंटेज 11 था और मार्क बाउचर भी काफी शानदार थे। ऑस्ट्रेलिया के टिम पेन ने शानदार शुरूआत की थी लेकिन आखिर में आकर वो भी कैच ड्रॉप करने लगे।

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी भारत के सबसे सफल कप्तान रहे हैं। धोनी की कप्तानी में टीम इंडिया ने आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी से लेकर दो वर्ल्ड कप जीते हैं। वो आईसीसी की तीनों ही ट्रॉफी जीतने वाले इकलौते भारतीय कप्तान हैं। इसके अलावा और भी कई बड़े रिकॉर्ड्स उन्होंने अपनी कप्तानी में बनाए। एमएस धोनी ने 31 अक्टूबर 2005 को जयपुर में विकेटकीपर के रूप में तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए श्रीलंका के खिलाफ 183* रन बनाए थे। इस मैच मे धोनी ने एकदिवसीय पारी में एक विकेटकीपर बल्लेबाज द्वारा बनाए गए सबसे अधिक रन का रिकॉर्ड बनाया था जो आज भी कायम है।


Edited by सावन गुप्ता
reaction-emoji

Comments

comments icon2 comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...