'कप्तान एमएस धोनी की वजह से मेरा आत्मविश्वास बढ़ा'

जब से जसप्रीत बुमराह ने भारत के लिए डैब्यू किया है, तब से वो बॉलिंग अटैक की धार बन गए हैं। टीम इंडिया के तेज गेंदबाज के लिए पिछले 5 महीने काफी यादगार रहे हैं। जसप्रीत बुमराह अभी तक डैथ ओवरों में भारत के दिक्कतों को दूर करते नजर आए हैं। बुमराह इसके लिए कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को क्रैडिट देते हैं। जसप्रीत बुमराह ने आईपीएल 2016 में शानदार प्रदर्शन करते हुए 15 विकेट झटके। हालांकि वो अपनी टीम मुंबई इंडियंस को लीग स्टेज से आगे ना ले जा सके। आईपीएल के थकाने देने वाले शैड्यूल के बाद उनका पूरा ध्यान जिम्बाब्वे दौरे पर है। कप्तान धोनी के बारे में बोलते हुए बुमराह ने कहा, "धोनी ने मुझमें काफी विश्वास दिखाया, जिसकी वजह से मैं अच्छा प्रदर्शन कर पाया। इसकी वजह से जो चीजें मैं अच्छी कर सकता हू, उसे करने का कॉन्फिडेंस मिला। ये टीम में आए नए खिलाड़ी के लिए सबसे अच्छा होता है। धोनी ने काफी मौकों पर जसप्रीत बुमराह के टैलेंट की तारीफ की है। धोनी ने कई बार दिखाया है कि उन्हें बुमराह में काफी भरोसा है। वर्ल्ड टी-20 के दौरान जब भी टीम प्रेशर में होती धोनी बुमराह को बॉल दे दिया करते थे। जसप्रीत बुमराह ने अब तक भारत के लिए 16 टी-20 और एक वनडे मैच खेला है। भारत के लिए डैब्यू करने के बाद से उनके जीवन पर पड़े असर के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, "मैं आज भी वही इंसान हूंं। मैं अपने पुराने दोस्तो के साथ उसी तरह घूमता हूं जैसा कि पहले करता था। फर्क सिर्फ इतना है कि लोग अब मुझे पहचानते हैं"। "जो काम पहले करता था, आज भी वही सब करता हूं। मैं घर पर रहकर फैमिली और दोस्तों के साथ टाइम स्पैंड करता हूं। क्रिकेट नाम और चमक धमक की बजाय अच्छा क्रिकेटर बनना चाहता हूं। डैथ ओवर्स में बॉलिंग का राज बुमराह पिछले कुछ समय से भारत के डैथ स्पेशलिस्ट बन गए हैं। इस बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, "मैं ज्यादा कुछ नहीं सोचता, सिर्फ अपने प्लान को पूरा करने की कोशिश करता हूं। मैंने अपने बेसिक प्लान पर ही डटा रहता हूं। कभी-कभी प्लान काम नहीं करता लेकिन अगर आपके पास खिलाडियों को लेकर प्लान हैं तो आप अच्छा कर सकते हैं"। बुमराह ने आगे बोलते हुए कहा, "अपने प्लान के बारे में सोचने से उसे पूरा करने में आसानी आती है। जिम्बाब्वे दौरे से पहले मिला ये ब्रेक काफी अच्छा रहेगा"।

Edited by Staff Editor