के एल राहुल और शिखर धवन का टीम में होना मेरे लिए प्रतिद्वंदिता नहीं: विजय

मौजूदा समय क्रिकेट में बड़ी हलचल मची हुई है क्योंकि कई बड़ी टीमें एक दूसरे के साथ सीरीज खेलने में जुटी हुई है। जिसमें ऑस्ट्रेलिया श्रीलंका दौरे पर है तो न्यूजीलैंड अफ़्रीकी दौरे पर, वहीं एक तरफ पकिस्तान इंग्लैंड का दौरा कर रही है तो दूसरी तरफ भारत ने हाल में ही वेस्टइंडीज़ और फ्लोरिडा का दौरा किया। वेस्टइंडीज़ दौरे पर गई भारतीय टीम को 4 टेस्ट मैच की सीरीज खेलनी थी जिसके पहले तीन टेस्ट पूर्ण रूप से संपन्न हुए और भारत तीन टेस्ट मैचों में 2-0 से अजयी बढ़त बना चुका था। चौथा टेस्ट मैच बारिश की वजह से रद्द हो गया था। इस तरह से भारत ने 4 टेस्ट मैचो की सीरीज़ 2-0 से जीत हासिल कर ली। चौथा टेस्ट मैच ड्रॉ होने की वजह से भारत के हाथ से टेस्ट रैंकिंग में नंबर-1 की कुर्सी खिसक गई जिसकी वजह से टेस्ट की नंबर-1 टीम पाकिस्तान बन गई। टेस्ट सीरीज ख़त्म होने के बाद भारतीय टीम को वेस्टइंडीज़ के साथ फ्लोरिडा में दो टी20 मैचों की सीरीज़ खेलनी थी जो 27 और 28 अगस्त को खेली गई। दो मैचों की टी20 सीरीज के दोनों मुकाबले फ्लोरिडा में खेले गए जहां पहले मुकाबले में भारत को वेस्टइंडीज़ के हाथों एक रन की हार मिली और दूसरे मुकाबले में जीत की ओर बढ़ती भारतीय टीम को बारिश के कारण जीत नहीं मिल सकी और उन्हें सीरीज़ 1-0 से हारनी पड़ी। फिलहाल भारतीय टीम के कुछ खिलाड़ी तमिलनाडू प्रीमियर लीग में खेल रहे हैं जिसमें भारतीय टेस्ट टीम के सलामी बल्लेबाज़ मुरली विजय भी शामिल हैं। हाल में ही मुरली विजय ने मीडिया को अपने साथी सलामी बल्लेबाज़ के एल राहुल और शिखर धवन को लेकर एक बड़ा बयान दिया। “मुझे पता है कि सलामी बल्लेबाजी के लिए राहुल और धवन दोनों मौजूद हैं, लेकिन मुझे उनसे कोई प्रतिद्वंदता नज़र नहीं आती। जब भारतीय टीम में खेलने की बात आती है तो मेरे अनुसार हम सभी एक ही लेवेल पर हैं। जब मुझे मौका मिलेगा तो मैं अपना सर्वश्रेष्ठ दूंगा और ऐसा ही कुछ धवन और राहुल के साथ भी है”: मुरली विजय हालांकि वेस्टइंडीज़ दौरा विजय के लिए उतना अच्छा नहीं रहा है, और पहले मैच में अंगूठे की चोट ने उन्हें एक मैच के लिए बाहर भी कर दिया था। लेकिन अभी विजय बिल्कुल ठीक हैं और तमिल नाडू प्रीमियर लीग में लाइका कोवई किंग्स के लिए खेल रहे हैं।