हमारा दिल बहुत बड़ा है, आपस में प्रतिस्पर्धा से हम डरते नहीं बल्कि ख़ुश होते हैं : शिखर धवन

भारत और वेस्टइंडीज़ के बीच तीसरा टेस्ट आज से शुरू हो रहा है, जहां टीम इंडिया जीत के इरादे के साथ उतरना चाहेगी। 4 टेस्ट मैचों की सीरीज़ में भारत 1-0 से आगे है, और सेंट लूसिया टेस्ट जीतकर कोहली एंड कपंनी की नज़र 2-0 से अजेय बढ़त बनाने पर होगी। टीम इंडिया के लिए इस टेस्ट से पहले अच्छी ख़बर ये आ रही है कि सलामी बल्लेबाज़ मुरली विजय के ऊंगली में लगी चोट पूरी तरह ठीक है, और वह तीसरे टेस्ट में वापसी करने के लिए तैयार हैं। मुरली विजय और भारत के लिए यही अच्छी ख़बर कोहली और कुंबले की परेशानी बढ़ा रही है, क्योंकि दूसरे टेस्ट में विजय की जगह शामिल किए गए के एल राहुल (158) ने शानदार शतक लगाते हुए अपनी योग्यता एक बार फिर साबित की है। राहुल का 6ठे मैच में ये तीसरा शतक था। राहुल के इस प्रदर्शन के बाद अब कोहली के सामने समस्या ये है कि इन तीनों में से किसे प्लेइंग-XI में रखा जाए और किसे बाहर किया जाए। हालांकि राहुल एक विकेटकीपर भी हैं, लिहाज़ा तीनों बल्लेबाज़ को अंतिम एकादश में रखने का विकल्प भी खुला है। ऐसा होता है तो ऋद्धिमान साहा को बाहर बैठना पड़ सकता है, जबकि साहा का भी अब तक विकेट के पीछे और विकेट के सामने भी अच्छा प्रदर्शन रहा है। अगर विजय अंदर आते हैं तो फिर उनके लिए शिखर धवन को बाहर बैठना पड़ सकता है, इस स्थिति से शिखर धवन भी वाक़िफ़ हैं और उनका मानना है कि अगर ऐसा होता है तो वह तैयार हैं और टीम के लिए ख़ुश हैं। ''टीम में इस वक़्त बेहतरीन प्रतिस्पर्धा चल रही है, जो भारतीय क्रिकेट के लिए शानदार है। मैदान के बाहर भी हम बहुत अच्छे दोस्त हैं, लेकिन ये भी सच है कि हम तीनों में सलामी बल्लेबाज़ी के लिए प्रतिस्पर्धा जारी है क्योंकि तीनों अच्छा खेल रहे हैं। हम सभी बड़े दिल वाले हैं और हममें से जो अच्छा करेगा सभी को ख़ुशी होगी।" :शिखर धवन हालांकि भारत के पास तीसरा विकल्प भी है और वह ये कि नंबर-3 पर ख़राब फ़ॉर्म में चल रहे चेतेश्वर पुजारा को भी मुरली विजय के लिए बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है।

Edited by Staff Editor