Create
Notifications

नवजोत सिद्धू ने भारत-पाकिस्तान संबंधों को ठीक करने के लिए क्रिकेट खेलने का सुझाव दिया

Naveen Sharma
visit

पूर्व पाक कप्तान इमरान खान के प्रधानमन्त्री पद के शपथ ग्रहण समारोह में जाने के बाद आलोचना के शिकार नवजोत सिद्धू ने एक बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होने दोनों देशों के क्रिकेट सम्बन्ध सुधारने के लिए एक मैच आयोजित करने की सलाह दी है। सिद्धू के अनुसार भारत के आईपीएल और पाकिस्तान के पीएसएल की विजेता टीमों के बीच टी20 मैच कराया जाना चाहिए। पीटीआई के अनुसार सिद्धू ने कहा है कि दोनों देशों के सम्बन्ध सुधारने में क्रिकेट अहम भूमिका निभा सकता है और आईपीएल तथा पीएसएल की विजेता टीमों के बीच मुकाबला कराना चाहिए। पाकिस्तान के घरेलू टी20 टूर्नामेंट पीएसएल की चैम्पियन टीम यूनाइटेड इस्लामाब्द के कोच डीन जोन्स ने सिद्धू की बात का समर्थन किया है। डीन जोन्स ने ट्वीट करते हुए कहा कि इस्लामाबाद यूनाइटेड इसमें रूचि रखता है लेकिन क्या आईपीएल बीसीसीआई ऐसा चाहेगा? गौरतलब है कि नवजोत सिद्धू को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शपथ ग्रहण समारोह के लिए बुलाया था। पूर्व भारतीय क्रिकेटर वहां गए और वहां के सेनाध्यक्ष से गले भी मिले जिसकी भारत में काफी आलोचना हुई थी। सिद्धू ने मामले पर सफाई देते हुए कहा था कि वे इमरान के दोस्त होने के नाते पाकिस्तान गए थे। गौरतलब है कि पाकिस्तान जाने के लिए पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर और कपिल देव को भी आमंत्रित किया गया था लेकिन दोनों निजी कारणों का हवाला देकर वहां नहीं गए थे। नवजोत सिद्धू ने आमन्त्रण स्वीकार करते हुए गए थे जिसकी आलोचनाओं का सिलसिला अभी भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। भारत और पाकिस्तान के बीच काफी वर्षों से द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज नहीं हुई है और इसकी बड़ी वजह पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद है। भारत सरकार इसको लेकर काफी सख्त है।


Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now