Create

NZvAUS, वीडियो: जब गेंद नहीं बल्कि हेलमेट के विकेट में लगने की वजह से आउट क़रार दिए गए मार्क चैपमैन

विनय प्रताप

न्यूज़ीलैंड में खेली जा रही इंग्लैंड ,ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की त्रिकोणीय सीरीज के पांचवें वनडे मैच में ऑस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड को 5 विकेट से हराकर निरंतरता बनाये हुए है। इस मैच में न्यूजीलैंड ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और 244 रन का बड़ा स्कोर खड़ा कर गेंदबाजों का काम आसान करने की कोशिश की। 244 रनों का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम ने इस लक्ष्य को 7 गेंद शेष रहते ही हासिल कर लिया। न्यूजीलैंड के सलामी बल्लेबाज मार्टिन गप्टिल इस मैच में शतक जड़कर टी-20 में सबसे अधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बन गए। मार्टिन गप्टिल के साथ साथ बल्लेबाज मार्क चैपमैन को भी यह मैच लंबे समय तक याद रहेगा। मार्क चैपमैन मैदान पर अनोखे तरीके से आउट हुए। दरअसल, पारी के 18वें ओवर के दौरान बिली स्टानलेक गेंदबाजी कर रहे थे। स्टानलेक ने चैपमैन को बाउंसर फेंका जो सीधा जाकर उनके हेलमेट पर लगा, इसके बाद हेलमेट उनके सिर से निकल कर विकेट पर जा गिरा। विकेट में हेलमेट लगने की वजह से उन्हें हिट विकेट आउट माना गया और पवेलियन लौटना पड़ा। पवेलियन लौटने से पहले मार्क चैपमैन ने 14 गेंदों में 16 रन जोड़े।

क्रिकेट इतिहास में बेहद कम बार ऐसा देखा गया है, जब कोई बल्लेबाज इस प्रकार आउट हुआ हो।मार्क चैपमैन के आउट होने से पहले सिर्फ दो बार ऐसा हुआ था, जब बल्लेबाज हेलमेट से आउट हुआ हो। ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज ब्रेट ली ने साल 2000 में न्यूजीलैंड के एडम परोरे को इसी तरह आउट किया था। कुछ इसी तरह ड्वेन ब्रावो ने साल 2007 में केविन पीटरसन को आउट किया था। वहीं विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरे आस्ट्रेलिया की तरफ से कप्तान डेविड वार्नर और डी'आर्सी शॉर्ट ने धमाकेदार शुरुआत दी और सिर्फ 8.3 ओवरों में ही 121 रन बोर्ड पर टांग दिए। लेग स्पिनर इश सोढी ने वॉर्नर को बोल्ड कर इस साझेदारी को तोड़ा। क्रिस लिन 18 रनों का ही योगदान दे सके और आउट हो गए। इन दोनों के बाद ग्लैन मैक्सवेल ने मोर्चा संभाला और 14 गेंदों में 3 चौकों और 2 छक्कों के साथ 31 रन बनाए।इस जीत के साथ ही ऑस्ट्रेलिया ने वेस्टइंडीज के 231 रनों का पीछा करते हुए हासिल की गई दक्षिण अफ़्रीका पर जीत के रिकॉर्ड को तोड़ दिया। विंडीज़ ने 2011 में खेले गए जोहांसबर्ग टी20 में 231 रनों का पीछा करते हुए 236 रन बना डाले थे।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...