Create
Notifications

'2010 में मुझे लगा था कि एमएस धोनी को बल्‍लेबाजी करते नहीं आती'

एमएस धोनी
एमएस धोनी
Vivek Goel

दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज एनरिक नॉर्टजे ने सोमवार को याद किया कि दक्षिण अफ्रीका में 2010 चैंपियंस लीग टी20 में नेट्स के दौरान उन्‍हें लगा कि एमएस धोनी को बल्‍लेबाजी करते नहीं आती थी। नॉर्टजे ने तब धोनी को गेंदबाजी की थी और उन्‍हें याद किया कि माही ने अपने पैरों का इस्‍तेमाल नहीं किया था।

नॉर्टजे अब इंडियन प्रीमियर लीग में दिल्‍ली कैपिटल्‍स के लिए खेलते हैं। वह तब 16 साल के थे और चेन्‍नई सुपरकिंग्‍स ने उन्‍हें नेट्स पर गेंदबाजी के लिए बुलाया था। धोनी सीएसके के कप्‍तान थे।

द ग्रेड क्रिकेटर पॉडकास्‍ट से बातचीत में नॉर्टजे ने कहा, 'मैं तब बड़ा नहीं था तो किसी बात का डर नहीं था। तब उम्र भी ऐसी थी कि मेरी गेंदबाजी ज्‍यादा तेज नहीं थी। मुझे याद है कि एमएस धोनी को नेट्स पर गेंदबाजी कर रहा था। ईमानदारी से कहूं तो ऐसा लग ही नहीं रहा था कि उन्‍हें बल्‍लेबाजी करते आती है।'

उन्‍होंने आगे कहा, 'मुझे एहसास नहीं हुआ कि वो धोनी हैं। उन्‍होंने खड़े-खड़े कुछ शॉट्स लगाए और अपने पैरों का बिलकुल भी इस्‍तेमाल नहीं किया। मगर वो इतने अच्‍छे व्‍यक्ति हैं कि सभी से बहुत अच्‍छे से मिलते हैं और एहसास हुआ कि वो कौन हैं।'

धोनी की एक झलक पाने को देखी बेताबी: नॉर्टजे

27 साल के तेज गेंदबाज एनरिक नॉर्टजे ने कहा, 'मैं झूठ नहीं बोलूंगा। मुझे ऐसा लगा कि धोनी को बल्‍लेबाजी करते नहीं आती है। नेट्स के पास सभी को देखकर अच्‍छा लगा था। सभी ने धोनी की एक झलक पाने के लिए उन्‍हें घेरे रखा था।' बता दें कि एमएस धोनी के नेतृत्‍व वाली सीएसके ने दक्षिण अफ्रीका की स्‍थानीय टीम वॉरियर्स को फाइनल में 8 विकेट से मात देकर चैंपियंस लीग टी20 खिताब जीता था।

एमएस धोनी ने पांच पारियों में तीन बार नाबाद रहते हुए 91 रन बनाए थे। धोनी का उसमें सर्वश्रेष्‍ठ स्‍कोर नाबाद 31 रन था। फाइनल में उन्‍होंने नाबाद 17 रन बनाए थे। सीएसके ने 2014 में दोबारा खिताब जीता था।

बता दें कि दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज ने दिल्‍ली कैपिटल्‍स को 2020 आईपीएल फाइनल में क्‍वालीफाई कराने में अहम भूमिका निभाई थी। यूएई में खेले गए आईपीएल 2020 में एनरिक नॉर्टजे ने 22 विकेट लिए थे।


Edited by Vivek Goel

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...