‘बीसीसीआई ने किया सही फैसला…’ श्रेयस अय्यर और इशान किशन को लेकर ऐसा क्यों कह गए सौरव गांगुली, जानिए यहां

India v South Africa - 2nd One Day International
भारतीय टीम के अहम खिलाड़ी हैं इशान किशन और श्रेयस अय्यर

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानि बीसीसीआई (BCCI) ने बुधवार 28 फरवरी को नए सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट का ऐलान किया था। इस बार इस कॉन्ट्रैक्ट में 30 खिलाड़ियों को जगह मिली है। हालांकि चौंकाने वाली बात यह रही कि भारतीय टीम के स्टार खिलाड़ी श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) और इशान किशन (Ishan Kishan) को कॉन्ट्रैक्ट में जगह नहीं मिली है। इन दोनों खिलाड़ियों को कॉन्ट्रैक्ट में शामिल न किए जाने के बीसीसीआई के फैसले को भारत के पूर्व कप्तान और दिग्गज खिलाड़ी सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने सही बताया है।

रेव स्पोर्ट्स से बात करते हुए सौरव गागुंली ने कहा कि ‘बीसीसीआई चाहता था कि ये दोनों खिलाड़ी फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेलें। हालांकि मुझे इस बात से हैरानी हुई कि श्रेयस और इशान प्रतिष्ठित रणजी ट्रॉफी में नहीं खेलें। इसे लेकर बीसीसीआई ने जो फैसला किया वह सही है लेकिन खिलाड़ियों को फर्स्ट क्लास क्रिकेट जरूर खेलना चाहिए। यह गलत है उनसे फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेलने की उम्मीद थी। एक बार जब आप कॉन्ट्रेक्ट खिलाड़ी बन जाते हैं तो आपसे खेलने की उम्मीद की जाती है। श्रेयस अय्यर सेमीफाइनल में मुंबई के लिए खेलने के लिए तैयार हैं।’

इस मामले पर सौरव गांगुली ने आगे कहा कि ‘वे युवा लोग हैं। इशान किशन ने मुझे चौंका दिया। वे सभी फॉर्मेट में भारतीय टीम का हिस्सा हैं और आईपीएल में भी उनके पास बड़ा कॉन्ट्रैक्ट है। इसलिए मुझे नहीं पता कि उन्होंने ऐसा क्यों किया। जब आप सभी फॉर्मेट में भारत के लिए खेल रहे हैं तो आपको खेलना ही चाहिए। इस मामले में बीसीसीआई ने कड़ा रुख अपनाया है और यह सही है। जब आप कॉन्ट्रैक्ट में होते हैं तो आपको नियमों का पालन करना होता है।’ रोल बोर्ड यानि बीसीसीआई ने बुधवार 28 फरवरी को नए सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट का ऐलान किया था. इस बार इस कॉन्ट्रैक्ट म

आपको बता दें कि भारतीय टीम से बाहर चल रहे श्रेयस अय्यर और इशान किशन से उम्मीद की जा रही थी कि वह रणजी ट्रॉफी में अपने प्रदेश की टीमों के लिए खेलते हुए नजर आएंगे। हालांकि दोनों में से कोई भी खिलाड़ी इस टूर्नामेंट नहीं उतरे हैं। माना जा रहा है कि इन दोनों के नहीं उतरने से नाराज बीसीसीआई ने दोनों को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से बाहर करने का फैसला किया है।

Quick Links

Edited by Rahul