श्रेयस अय्यर और इशान किशन को कॉन्ट्रैक्ट नहीं मिलने पर मनोज तिवारी ने दी प्रतिक्रिया, BCCI को लेकर दिया बड़ा बयान

India v South Africa - 2nd One Day International
भारतीय टीम से बाहर हैं श्रेयस अय्यर और इशान किशन

बीसीसीआई (BCCI) ने हाल ही में सेंट्रेल कॉन्ट्रैक्ट में शामिल खिलाड़ियों की लिस्ट साझा की थी। इस बार इस लिस्ट में 30 भारतीय खिलाड़ियों को शामिल किया गया है। हालांकि बोर्ड द्वारा साझा किए इस लिस्ट में भारत के स्टार खिलाड़ी श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) और इशान किशन (Ishan Kishan) का नाम नहीं था। दरअसल, माना जा रहा है कि बोर्ड के निर्देशों के बाद भी रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) में नहीं उतरे इशान और श्रेयस को कॉन्ट्रैक्ट से हटाया गया है। अब इस मामले पर भारत के पूर्व क्रिकेटर मनोज तिवारी (Manoj Tiwary) ने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

स्पोर्ट्न नाउ से बात करते हुए मनोज तिवारी ने इशान किशन और श्रेयस अय्यर को लेकर कहा कि ‘खिलाड़ियों को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से हटाने को नजरअंदाज किया जा सकता था। हालांकि मुझे नहीं पता कि उनके बीच क्या बातचीत हुई लेकिन अब यह सबके लिए एक मैसेज है कि अगर खिलाड़ी उपलब्ध हैं तो उन्हें घरेलू क्रिकेट खेलना है। आप इसी तरह से इस टूर्नामेंट को बचा सकते हैं।’

मनोज तिवारी ने इसे लेकर आगे कहा कि ‘मैंने अपने ट्वीट में भी यही कहा था कि अब एक या दो व्यक्तियों को नहीं बल्कि सभी को अपनी जगह पर आना चाहिए। नियम सभी के लिए एक समान होने चाहिए। मैंने युवा और स्थापित खिलाड़ियों को घरेलू मैचों को दौरान केवल आईपीएल के बारे में बात करते हुए देखा है। यहां तक कि जब मैं जोनल मैच खेलता था तब भी खिलाड़ी आईपीएल को लेकर ही चर्चा करते थे। मैंने यह करीब से देखा है।’

बता दें कि इशान किशन दक्षिण अफ्रीका दौरे पर ब्रेक के बाद अभी तक भारतीय टीम में वापसी नहीं कर पाए हैं। वह रणजी ट्रॉफी में भी अपनी घरेलू टीम झारखंड की ओर से खेलते हुए नजर नहीं आए थे। दूसरी ओर श्रेयस अय्यर इंग्लैंड के खिलाफ पहले दो मैचों के बाद टीम से बाहर हो गए थे। अय्यर पीठ दर्द के कारण टीम से बाहर हुए थे। अय्यर ने भी मुंबई के लिए रणजी ट्रॉफी में क्वार्टर फाइनल मुकाबला नहीं खेला था। हालांकि अब वह सेमीफाइनल मुकाबले में मुंबई की ओर से तमिलनाडु के खिलाफ खेलने उतरे हैं।

Quick Links