"साहा को गलत समय पर किया गया टीम से बाहर, मैं भी हो चुका हूं इसका शिकार", पूर्व भारतीय विकेटकीपर का बड़ा बयान

Australia v India: 3rd Test: Day 4
Australia v India: 3rd Test: Day 4

भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ऋद्धिमान साहा (Wriddhiman Saha) को भारतीय टेस्ट टीम से बाहर (IND vs SL) का रास्ता दिखा दिया गया है, लेकिन कई दिग्गजों को यह बात पच नहीं रही है। 37 साल के साहा का अब दोबारा टीम में आना मुमकिन नहीं दिख रहा है क्योंकि टीम मैनेजमेंट ने साफ कर दिया है कि साहा उनके प्लान में अब नहीं आते हैं। हालांकि, पूर्व भारतीय विकेटकीपर सैयद किरमानी (Syed Kirmani) इस चीज को स्वीकार नहीं करते हैं और उनका कहना है कि साहा को गलत समय पर बाहर किया गया है।

किरमानी ने स्पोर्ट्सकीड़ा से कहा,

मैं साहा को काफी बेहतरीन मानता हूं। मेरे हिसाब से वह वर्तमान समय में तकनीकी रूप से सबसे कुशल भारतीय विकेटकीपर हैं। हालांकि, सिलेक्शन कमेटी, टीम मैनेजमेंट और अन्य लोगों के दिमाग में अलग ख्याल हैं। उम्र की बात लंबे समय से है और मैं भी इसका शिकार हुआ हूं। उन्होंने सचिन तेंदुलकर को भी नहीं छोड़ा था। मेरी तरह ही साहा को भी उस समय टीम से बाहर किया गया जब वह अपनी पीक पर थे।

द्रविड़ ने दी थी साहा को भविष्य के बारे में सोचने की सलाह

श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज की टीम में जगह नहीं मिलने के बाद साहा ने खुलासा किया था कि टीम के हेड कोच राहुल द्रविड़ ने उन्हें संन्यास लेने की सलाह दी है। साहा के मुताबिक द्रविड़ ने दक्षिण अफ्रीका दौरा समाप्त होने के बाद साहा से कह दिया था कि वे अब अपने भविष्य के बारे में फैसला ले सकते हैं।

वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 सीरीज में क्लीन स्वीप हासिल करने के बाद द्रविड़ ने भी इस मामले पर अपना पक्ष रखा था। द्रविड़ ने कहा था,

साहा ने टीम के लिए जो किया है उसे देखते हुए मैं उनकी काफी इज्जत करता हूं और इसी कारण उन्हें सच्चाई पता होनी चाहिए। ऋषभ पंत हमारे विकेटकीपर के रूप में पहली पसंद हैं और अब हम पंत के साथ एक युवा विकेटकीपर को तैयार करना चाहते हैं।

Quick Links