Create
Notifications

क्रिकेट स्‍टेडियम बनाने के लिए एकसाथ काम करेंगी भारत-पाकिस्‍तान की महिलाएं

बार्सिलोना की क्रिकेट खिलाड़ी
बार्सिलोना की क्रिकेट खिलाड़ी
Vivek Goel
visit

कोई बार्सिलोना से क्रिकेट को जोड़ता होगा। हालांकि, भारत और पाकिस्‍तान की युवा महिलाओं ने सुनिश्चित किया कि फुटबॉल के लिए दीवाने शहर में क्रिकेट स्‍टेडियम का निर्माण किया जाए। बार्सिलोना ने हाल ही में वोट के लिए खेल सुविधाओं के पैकेज के लिए 30 मिलियन यूरो का प्रस्‍ताव रखा। अधिकारियों के अविश्वास के कारण, 822 परियोजनाओं में से, बार्सिलोना की राजधानी ने एक क्रिकेट मैदान चुना।

अपने ग्रुप में सबसे बड़ी 20 साल की हिफ्सा बट ने खुलासा किया कि मुश्किल से विश्‍वसनीय उपलब्धि के पीछे की कहानी क्‍या है। महिला को अपने स्‍पेनिश जिम टीचर की तरह क्रिकेट की बहुत कम जानकारी है। हालांकि, बट के पिता ने अपने ऊपर जिम्‍मेदारी और विदेशी खेल के बेसिक्‍स उन्‍हें सिखाए।

बट ने द गार्डियन से बातचीत में कहा, 'इन सभी की शुरूआत तीन साल पहले सेकंडरी स्‍कूल में हुई जब जिम टीचर ने कहा, 'ठीक है, हम स्‍कूल की छुट्टी होने के बाद क्रिकेट क्‍लब की शुरूआत करने जा रहे हैं।' इसमें कौन हिस्‍सा लेगा? बट के पिता ने बताया था कि कैसे खेलना है और फिर हमने अपनी जिम्‍मेदारी पर इसे खेलना शुरू किया।'

महिलाओं ने मिलकर एक इंडोर क्रिकेट लीग शुरू की और हाल ही में मोंटजूक पर बेसबॉल मैदान का उपयोग अपने अस्थायी क्रिकेट मैदान के रूप में भी कर रही थीं। अब बट कहती हैं कि उनका लक्ष्‍य पेशेवर के लिए आगे बढ़ना है।

उन्‍होंने कहा, 'हम 11 खिलाड़‍ियों के साथ कड़क गेंद से क्रिकेट खेलना चाहते हैं न कि इंडोर में टेनिस बॉल से खेलना चाहते हैं। तो अब हमें क्रिकेट पिच की जरूरत है तो असली हो न कि सिंथेटिक ग्रास वाली हो।'

बार्सिलोना में सही जगह खोजना मुश्किल

बार्सिलोना अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट क्‍लब के ऑस्‍ट्रेलियाई अध्‍यक्ष डेमियन मैकमुलन के हवाले से इसी रिपोर्ट में कहा गया कि प्रतिस्‍पर्धी क्रिकेट ग्राउंड खोजना असंभव है। हालांकि, सभी महिला समूह के प्रयासों के बाद, मोंटजूइक पर एक गंदगी का मैदान, एक उखड़ी पहाड़ी पर सपाट शीर्ष के साथ, € 1.2m की लागत से एस्ट्रोटर्फ क्रिकेट पिच में परिवर्तित होने के लिए तैयार है।

हिफ्सा बट ने आगे कहा कि खेल में कदम आगे बढ़ाने के अलावा वह बार्सिलोना और अन्‍य जगहों पर इसकी दूत बनना चाहती हैं। उन्‍होंने कहा, 'हम पाकिस्‍तान और भारत से हैं। वो देश जिन्‍हें क्रिकेट के बारे में पता है। मगर हम स्‍पेन में भी इस खेल की खबरें फैलाना चाहते हैं।'

बार्सिलोना में 20 से अधिक क्रिकेट टीमें हैं, जिसमें 700 से अधिक खिलाड़ी शामिल हैं, जिनमें से ज्यादातर न्यूजीलैंड, दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैंड, भारत, ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान और बांग्लादेश से हैं। यह आगामी क्रिकेट स्टेडियम यूरोप में उनके कौशल और क्रिकेट के भविष्य के लिए एक बड़ा प्रोत्साहन बन सकता है।


Edited by Vivek Goel
Fetching more content...
Article image

Go to article
App download animated image Get the free App now