Create

"वह ऐसा विस्फोटक ओपनर है जिसकी सभी को जरूरत है" - पृथ्वी शॉ की तूफानी पारी को लेकर आई बड़ी प्रतिक्रिया

पृथ्वी शॉ ने LSG के खिलाफ जबरदस्त अर्धशतक लगाया
पृथ्वी शॉ ने LSG के खिलाफ जबरदस्त अर्धशतक लगाया

आईपीएल 2022 (IPL 2022) में कल लखनऊ सुपर जायंट्स (LSG) के खिलाफ दिल्ली कैपिटल्स (DC) के ओपनर पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने बेहद ही आक्रामक अंदाज में बल्लेबाजी करते हुए एक शानदार पारी खेली। शॉ की आक्रामक पारी के बाद पूर्व भारतीय खिलाड़ी आकाश चोपड़ा ने युवा बल्लेबाज की जमकर तारीफ की है।

पृथ्वी शॉ ने 34 गेंदों में 61 रन की पारी खेली लेकिन उनकी टीम अच्छी शुरुआत का फायदा उठाने में नाकम रही और 20 ओवर में तीन विकेट खोकर 149 रन ही बना पाई। जवाब में लखनऊ ने क्विंटन डी कॉक की 80 रन की पारी की मदद से दो गेंदें शेष रहते हुए चार विकेट के नुकसान पर 155 रन बनाकर मैच जीत लिया।

अपने यूट्यूब चैनल पर दिल्ली कैपिटल्स की बल्लेबाजी को लेकर चर्चा करते हुए आकाश चोपड़ा ने शॉ को लेकर कहा,

पृथ्वी शॉ बिल्कुल पृथ्वी मिसाइल की तरह था। मैंने कहा था कि यह पृथ्वी शॉ का दिन हो सकता है। क्या अद्भुत बल्लेबाजी प्रदर्शन है, जब वह इस तरह बल्लेबाजी करता है, तो आपको लगता है कि वह ऐसा विस्फोटक ओपनिंग बल्लेबाज है जिसकी सभी को जरूरत है।

उन्होंने आगे कहा कि कोई भी लखनऊ सुपर जायंट्स का गेंदबाज पृथ्वी को रोकने में कामयाब नहीं रहा। चोपड़ा ने कहा,

विपक्षी गेंदबाजी ठीक थी, यह सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी लाइनअप नहीं है लेकिन यह भी खराब नहीं है। कृष्णप्पा गौतम को शुरुआत में गेंदबाजी करने के लिए बुलाया गया था, उन्हें अवेश खान और रवि बिश्नोई मिले, केएल राहुल ने सब कुछ करने की कोशिश की, लेकिन कोई भी पृथ्वी शॉ को रोकने में सक्षम नहीं था।
youtube-cover

अपनी पारी में नौ चौके और दो छक्के लगाने वाले शॉ ने डेविड वॉर्नर के साथ मिलकर पहले विकेट के लिए 67 रन जोड़े। इस साझेदारी में वॉर्नर का योगदान महज 4 रन का था।

डेविड वॉर्नर शुरुआत से ही संघर्ष कर रहे थे - आकाश चोपड़ा

डेविड वॉर्नर अपने पहले मैच में फ्लॉप साबित हुए
डेविड वॉर्नर अपने पहले मैच में फ्लॉप साबित हुए

आईपीएल 2022 में अपना पहला मैच खेल रहे डेविड वॉर्नर ने कल 12 गेंदों में महज 4 रन बनाये। उनकी पारी को लेकर चोपड़ा ने कहा,

जब डेविड वार्नर शॉ के साथ खेल रहे थे, तो उनका बल्ला बिल्कुल भी फायर नहीं कर रहा था। वह शुरू से ही संघर्ष और आखिरकार जब वह आउट हुए, तो उन्होंने 12 गेंदों में चार रन बनाए थे। रोवमैन पॉवेल को ऊपरी क्रम में भेजा गया था, मैं हैरान था कि ऋषभ पंत क्यों नहीं। रवि बिश्नोई ने उन्हें भी 10 गेंदों पर तीन रन बनाने के बाद चलता कर दिया।

पूर्व खिलाड़ी ने आगे कहा कि सरफ़राज़ खान और ऋषभ पंत के बीच हुई 75 रनों की साझेदारी में सरफ़राज़ ने बेहतर बल्लेबाजी की। उन्होंने कहा,

पॉवेल के बाद ऋषभ पंत आए। वह भी अंत तक संघर्ष करते रहे लेकिन वहीं खड़े रहे। सरफराज और ऋषभ पंत की नाबाद साझेदारी थी जहां सरफराज अधिकांश समय बेहतर बल्लेबाजी कर रहे थे और फिर ऋषभ पंत ने एक ओवर में एंड्रू टाई पर अटैक किया और टीम को 149 तक ले गए।

अंत में आकाश चोपड़ा ने कहा कि दिल्ली के बल्लेबाजों ने ज्यादा प्रयास नहीं किया और इसी वजह से तीन ही विकेट खोने के बावजूद टीम बड़ा स्कोर नहीं बना पाई। हालाँकि उन्होंने LSG के गेंदबाजों को भी इसका श्रेय दिया।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment