IVPL 2024 : दिल्ली ने राजस्थान लेजेंड्स को 27 रन से हराया, दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज ने जड़ा सीजन का दूसरा शतक

Rahul
Photo Courtesy : IVPL 2024.
Photo Courtesy : IVPL 2024.

इंडियन वेटेरन प्रीमियर लीग (आईवीपीएल) का पहला सीजन आधे से ज्यादा पूरा हो चुका है। गुरुवार को वीवीआईपी उत्तर प्रदेश ने जहां अपनी चौथी जीत दर्ज करने के बाद सेमीफाइनल का टिकट पक्का किया। वहीं 13वें मुकाबले में रेड कार्पेट दिल्ली ने राजस्थान लेजेंड्स को 27 रन से हराकर अपनी तीसरी जीत दर्ज कर ली। यह मुकाबला ग्रेटर नोएडा के शहीद विजय सिंह पथिक स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में खेला गया।

इस मुकाबले में पहले खेलते हुए रेड कार्पेट दिल्ली ने निर्धारित 20 ओवर में 3 विकेट गंवाकर 247 रन का विशाल स्कोर खड़ा कर दिया। इस लीग में दिल्ली के बल्लेबाज रिचर्ड लेवी ने सीजन में अपना दूसरा शतक ठोका। वहीं श्रीलंका के पूर्व दिग्गज आसेला गुणारत्ने ने भी बेहतरीन अर्धशतकीय पारी खेली।

रिचर्ड लेवी ने अपनी शतकीय पारी में 53 गेंदों का सामना किया और शानदार 116 रन बनाए। उनकी इस पारी में 10 चौके और 8 छक्के शामिल थे। उनके अलावा गुणारत्ने ने 53 गेंदों पर नाबाद 85 रन बनाए और अपनी पारी में 6 चौके और उतने ही छक्के जड़े।

दिल्ली की शुरुआत अच्छी नहीं थी और पहली गेंद पर ही श्रीसंत ने कप्तान हर्षेल गिब्स को क्लीन बोल्ड कर दिया था। यहां से बिपुल शर्मा (32 रन 19 गेंद) ने पारी को लेवी के साथ आगे बढ़ाया। दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 81 रन जोड़े। फिर सीकुगे प्रसन्ना ने बिपुल का विकेट झटका और क्रीज पर आए गुणारत्ने। यहां से उनके और रिचर्ड लेवी के बीच हुई तीसरे विकेट के लिए 155 रन की साझेदारी। इसकी बदौलत दिल्ली ने 247 रन का विशाल स्कोर खड़ा कर दिया।

जवाब में 248 रन का मुश्किल लक्ष्य चेज करने उतरी राजस्थान लेजेंड्स की शुरुआत धीमी रही। भेराराम और सीकुगे प्रसन्ना ने पहले 3 ओवर में 24 रन ही बनाए। चौथे ओवर की पहली गेंद पर टीम को पहला झटका कपिल राणा ने दिया और भेराराम को 4 के स्कोर पर पवेलियन भेज दिया। फिर पांचवें ओवर की पहली गेंद पर एश्ले नर्स ने प्रसन्ना को भी 17 के स्कोर पर आउट कर दिया। एंजेलो परेरा ने आते ही तेज शुरुआत की और पहली 8 गेंद पर ही 27 रन ठोक दिए।इसकी बदौलत टीम ने पावरप्ले में 2 विकेट खोकर 57 रन बनाए।

इसके बाद 9वें ओवर में एंजेलो परेरा 17 गेंद पर 46 रन बनाकर आउट हुए और विक्रांत ने राजस्थान को तीसरा झटका दिया। 10 ओवर के बाद राजस्थान लेजेंड्स का स्कोर था 3 विकेट के नुकसान पर 99 रन। आखिरी 10 ओवर में जीत के लिए टीम को चाहिए थे 149 रन जो कि काफी मुश्किल लग रहा था। राजेश बिश्नोई ने अर्धशतकीय पारी खेली और एक छोर संभाले रहे। लेकिन नियमित अंतराल पर टीम के विकेट गिरते गए।

15 ओवर के बाद राजस्थान का स्कोर था 6 विकेट पर 140 रन। आखिरी 5 ओवर में टीम को जीत के लिए 108 रन की जरूरत थी। यहां से मैच लगभग दिल्ली की पकड़ में था। एकमात्र राजेश बिश्नोई डटे रहे और 18 ओवर में स्कोर हो गया 185 रन।

आखिरी दो ओवर में टीम को चाहिए थे 63 रन। फिर आखिरी ओवर में राजस्थान को जीत के लिए 47 रन की जरूरत थी और दिल्ली की जीत पक्की हो गई थी। राजस्थान की टीम 20 ओवर में 6 विकेट गंवाकर 220 रन ही बना पाई और 27 रन से मैच हार गई। बिश्नोई ने 46 गेंदों पर 98 रन की पारी खेली। वह अपनी टीम को मैच जरूर नहीं जीता पाए मगर दिल उन्होंने जीत लिया।

इस मैच के बाद राजस्थान लेजेंड्स और रेड कार्पेट दिल्ली का एक–एक लीग मैच और बाकी है। शुक्रवार को राजस्थान का सामना मुंबई चैंपियंस से दोपहर के मुकाबले में होगा। वहीं रेड कार्पेट दिल्ली की टीम शाम के मैच में तेलंगाना टाइगर्स से भिड़ेगी। शनिवार को लीग के दोनों सेमीफाइनल होंगे वहीं 3 मार्च रविवार को फाइनल मैच खेला जाएगा।

Edited by Rahul