सचिन तेंदुलकर ने अपने कोच रमाकांत आचरेकर को उनकी जयंती पर याद किया

Rahul
आज ही के दिन 1932 में पैदा हुए रमाकांत आचरेकर का जनवरी 2019 में निधन हो गया था
आज ही के दिन 1932 में पैदा हुए रमाकांत आचरेकर का जनवरी 2019 में निधन हो गया था

टीम इंडिया (Team India) के महान बल्लेबाज रहे सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने अपने बचपन के कोच रमाकांत आचरेकर (Ramakant Achrekar) को उनकी जन्मतिथि पर याद किया है। आज ही के दिन 1932 में पैदा हुए रमाकांत आचरेकर का जनवरी 2019 में निधन हो गया था। सचिन तेंदुलकर ने उनको याद करते हुए सोशल मीडिया पर एक पुराना फोटो अपलोड किया और उन्हें एक यादगार कैप्शन भी समर्पित किया है।

सचिन तेंदुलकर ने लिखा है कि, 'उन्होंने हमें न केवल क्रिकेट सिखाया, बल्कि हमारे अंदर यह विश्वास भी जगाया कि अगर हम ईमानदारी से खेलेंगे एक दिन हम भारत के लिए जरुर खेलेंगे। इस तरह के उपहार के लिए आप कभी भी किसी को पर्याप्त धन्यवाद नहीं कर सकते। काश आप यहां हमारे साथ होते, आचरेकर सर। आप हमेशा हमारे दिल में रहेंगे।' सचिन द्वारा अपलोड की गई फोटो में हम देख सकते हैं कि रमाकांत आचरेकर युवा सचिन को क्रिकेट की बारीकियां सिखाते हुए नजर आ रहें हैं।

सचिन तेंदुलकर, जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट 34357 रन बनाने के साथ हर एक बल्लेबाजी का रिकॉर्ड अपने नाम किया हुआ है, उन्होंने हमेशा अपनी क्रिकेट की सफलता का श्रेय आचरेकर को दिया है, जिन्हें वे अपना गुरु मानते थे। हर साल शिक्षक दिवस के मौके पर तेंदुलकर अपने पुराने कोच से मिलने जाते थे और उन्हें श्रद्धांजलि देते थे। लेकिन अब सोशल मीडिया के जरिये वह अपने कोच को याद करते हैं।

1990 में, सचिन के कोच रहे रमाकांत आचरेकर जी को खेल और खेलों में उत्कृष्ट कार्यों के लिए द्रोणाचार्य पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। उन्हें 2010 में देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्म श्री से भी सम्मानित किया गया था। उसी वर्ष, उन्हें स्पोर्ट्स इलस्ट्रेटेड पत्रिका द्वारा "लाइफटाइम अचीवमेंट" पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। सचिन तेंदुलकर के अलावा रमाकांत आचरेकर भारत के पूर्व खिलाड़ी विनोद काम्बली के भी कोच रहे थे। दोनों ने टीम इंडिया के लिए साथ भी क्रिकेट खेला और आज भी दोनों खिलाड़ी अच्छे दोस्त हैं।

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़