मैंने 22 साल तक इंतजार किया और तुम 21 ओवर तक नहीं कर सकते...पूर्व तेज गेंदबाज ने सचिन तेंदुलकर से हुई बातचीत का किया खुलासा

India v New Zealand: Semi Final - ICC Men
India v New Zealand: Semi Final - ICC Men's Cricket World Cup India 2023

भारतीय टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व तेज गेंदबाज वरुण आरोन (Varun Aaron) ने अपने डेब्यू टेस्ट मैच से जुड़ा बड़ा खुलासा किया है। वरुण आरोन ने बताया कि किस तरह सचिन तेंदुलकर के मोटिवेशन की वजह से वो अपने डेब्यू मुकाबले में विकेट निकालने में कामयाब रहे थे। वरुण आरोन ने बताया कि विकेट नहीं मिलने की वजह से वो काफी हताश हो चुके थे लेकिन सचिन तेंदुलकर ने उनका हौसला बढ़ाया।

वरुण आरोन ने 2011 में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपना टेस्ट डेब्यू किया था। उन्होंने बताया कि लगातार कई ओवर डालने के बाद भी जब उनको विकेट नहीं मिला तब वो काफी निराश हो गए थे। इसके बाद तेंदुलकर ने उनका हौंसला बढ़ाया।

सचिन तेंदुलकर ने मुझसे कहा कि जमीन पर आ जाओ - वरुण आरोन

वरुण ने बीसीसीआई के साथ इंटरव्यू के दौरान अपने उस डेब्यू मुकाबले को याद किया। उन्होंने कहा,

हम वानखेड़े में खेल रहे थे और विकेट काफी फ्लैट था। वेस्टइंडीज की टीम चार विकेट पर 500 के आस-पास रन बना चुकी थी। मैं काफी निराश था। उस वक्त मेरी उम्र 21 साल थी और मैंने बिना विकेट के 21 ओवर गेंदबाजी कभी नहीं की थी। सचिन तेंदुलकर मिड ऑफ पर खड़े थे। उन्होंने मुझसे पूछा कि तुम इतना थके हुए क्यों लग रहे हो। मैंने कहा कि पाजी मैंने कभी भी बिना विकेट लिए 21 ओवर नहीं डाले हैं। मुझे विश्वास नहीं हो रहा है कि मेरे डेब्यू मैच में मेरे साथ ऐसा हो रहा है।
उन्होंने बीच ओवर के दौरान ही मुझे बुलाया और कहा कि तुम्हे पता है कि मैंने अपने पहले वर्ल्ड कप ट्रॉफी के लिए 22 साल तक इंतजार किया। इसलिए तुम अपने पहले टेस्ट विकेट के लिए 21 ओवर तक तो इंतजार कर ही सकते हो। इसमें कोई दिक्कत नहीं है। जमीन पर आ जाओ और गेंदबाजी करो। इसके बाद अगली ही गेंद पर मैंने डैरेन ब्रावो को आउट कर दिया जो 166 रन बनाकर खेल रहे थे। इसके बाद दो और विकेट मिला और मेरा डेब्यू यादगार बन गया।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता