Vijay Hazare Trophy: मुंह पर लगी चोट फिर भी नहीं मानी हार, टेप लगाकर उतरा युवा बल्लेबाज 

(Photo Courtesy: TNCA Twitter)
(Photo Courtesy: TNCA Twitter)

विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) टूर्नामेंट का मौजूदा संस्करण अब अपने आखिरी मोड़ पर पहुंच चुका है। बुधवार को इस ट्रॉफी में हरियाणा और तमिलनाडु (Haryana vs Tamil Nadu) के बीच पहला सेमीफाइनल मुकाबला खेला गया। इस मैच में हरियाणा ने तमिलनाडु को हराकर फाइनल का टिकट पक्का कर लिया। टीम की हार के बावजूद तमिलनाडु के बाबा इंद्रजीत (Baba Indrajith) ने अपनी बल्लेबाजी से सबका दिल जीत लिया।

दरअसल, हरियाणा ने सेमीफाइनल मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करते हुए तमिलनाडु को 294 रनों का लक्ष्य दिया था। इस मैच में तमिलनाडु के पहले 3 विकेट 60 रनों के भीतर आउट हो गए। फिर टीम के इनफॉर्म बल्लेबाज बाबा इंद्रजीत क्रीज पर उतरे। खास बात यह रही कि बाबा इंद्रजीत मुंह पर टेप लगाकर उतरे थे।

बाबा इंद्रजीत के मुंह में टेप लगाकर बल्लेबाजी करने का कारण चोट रही। दरअसल, हरियाणा की पारी के बाद ब्रेक के दौरान बाथरूम में आइस बाथ से बाहर निकलते वक्त उनका पैर फिसल गया और वह बुरी तरह से गिर गए। इस चोट में उनके होंठ कट गए और उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टर ने उनकी चोट को देखते हुए उनके होंठ में तुरंत टांके लगा दिए। हालांकि इंद्रजीत ने हार नहीं मानी और टीम को मुश्किल में देख वह तुरंत मैदान पर लौटे। उन्होंने मुंह में टेप लगाकर बल्लेबाजी की।

सेमीफाइनल मुकाबले में हरियाणा के खिलाफ बाबा इंद्रजीत ने 71 गेंदों पर 64 रनों की अर्धशतकीय पारी खेली। हालांकि पहली 10 गेंद पर बल्लेबाजी के बाद बाबा इंद्रजीत को फिजियो की सहायता लेनी पड़ी लेकिन उन्होंने बल्लेबाजी नहीं छोड़ी और अपनी टीम की ओर से अंत तक लड़ाई लड़ी।

बाबा इंद्रजीत की यह जुझारू पारी अब काफी चर्चा में बनी हुई है। फैंस उनकी पारी की जमकर तारीफ कर रहे हैं। इंद्रजीत ने अपनी तरफ से तमिलनाडु को जिताने की पूरी कोशिश की लेकिन टीम लक्ष्य से 63 रन पीछे रह गई और उनकी पूरी पारी 230 रनों पर सिमट गई।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar