BBL में हुआ 'इलेक्ट्रा स्टंप्स' का डेब्यू, जानें कैसे है ये दूसरे स्टंप्स से अलग और इनके काम करने का तरीका

Neeraj
Photo Courtesy: Big Bash League Twitter Snapshots
Photo Courtesy: Big Bash League Twitter Snapshots

बिग बैश लीग (Big Bash League 2023) के 13वें सीजन में इस्तेमाल हो रहे इलेक्ट्रा स्टंप्स चर्चा हैं। इन स्टंप्स का इस्तेमाल पहले महिला बिग बैश लीग में हो चुका है। अब पुरुषों के टूर्नामेंट के 11वें मैच से इन स्टंप्स का प्रयोग शुरू हो गया। आधुनिक तकनीक से लैश ये स्टंप्स पूरे क्रिकेट जगत में सुर्खियां बटोर रहे हैं। इन स्टंप्स में मैदान पर होने वाली घटनाओं पर अलग-अलग तरह के रंग की लाइट जलती है। इससे फैंस सिर्फ स्टंप्स का रंग देखकर समझ सकते हैं कि पिछली गेंद पर क्या हुआ था।

22 दिसंबर को बिग बैश लीग ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो शेयर किया। इस वीडियो में मार्क वॉ और माइकल वॉन आधुनिक जमाने के इलेक्ट्रा स्टंप्स की खासियतों के बारे में बताते नजर आ रहे हैं।

कैसे काम करते हैं इलेक्ट्रा स्टंप्स?

किस गेंद पर क्या हुआ, इस आधार पर स्टंप्स की लाइटें बदलती हैं। आइए हम इनके काम करने के तरीके के बारे में आपको बताते हैं:

आउट: विकेट गिरने पर स्टंप्स का रंग लाल हो जाता है, इसके बाद इनका रंग ऐसे हो जाता है जैसे आग लगने पर दिखाई देता है। यह बल्लेबाज के पवेलियन लौटने का संकेत है।

चौका: बल्लेबाज द्वारा बाउंड्री लगाने पर पूरे स्टंप्स का रंग बदलने लगता है और कुछ समय बाद फिर से अपने पुराने रंग में बदल जाते हैं।

छक्काः छक्का लगने पर स्टंप्स का रंग एक छोर से बदलना शुरू होता है और दूसरे छोर तक जाता है। इसके बाद दूसरे छोर से पहले छोर तक आता है।

नो बॉल: गेंदबाज द्वारा नो बॉल फेंकने पर पूरे स्टंप्स में लाल और सफ़ेद रंग जलने लगता है। इसमें रंग बदलने का अंदाज पूरी तरह छक्के के जैसा होता है, लेकिन यहां रंग सिर्फ लाल और सफेद ही होते हैं।

ओवरों के बीच: ओवर की समाप्ति पर स्टंप्स में नील और बैंगनी रंग की लाइटें चलने लगती हैं। यहाँ भी रंग बदलने का अंदाज छक्का लगने और नो बॉल जैसे होता है।

Quick Links

Edited by Rahul
Be the first one to comment