Create

दीप्ति शर्मा ने फाइनल में वेलोसिटी की हार का दोषी बल्‍लेबाजों को ठहराया

दीप्ति शर्मा ने कहा कि उनकी टीम के पास ऐसी बल्‍लेबाजी थी कि 165 रन का लक्ष्‍य हासिल किया जा सकता था
दीप्ति शर्मा ने कहा कि उनकी टीम के पास ऐसी बल्‍लेबाजी थी कि 165 रन का लक्ष्‍य हासिल किया जा सकता था
Vivek Goel

वेलोसिटी (Velocity) को महिला टी20 चैलेंज (Women T20 Challenge) के फाइनल में सुपरनोवाज (Supernovas) के हाथों 4 रन की करीबी शिकस्‍त झेलनी पड़ी। वेलोसिटी की टीम खिताब जीतने से वंचित रह गई।

पुणे के एमसीए स्‍टेडियम में खेले गए फाइनल मैच में वेलोसिटी की कप्‍तान दीप्ति शर्मा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। सुपरनोवाज ने निर्धारित 20 ओवर में 7 विकेट खोकर 165 रन बनाए। जवाब में वेलोसिटी की टीम 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 161 रन बना सकी।

वेलोसिटी की तरफ से लौरा वोलवार्ट (65*) और सिमरन बहादुर (20*) ने शानदार पारियां खेली, लेकिन अन्‍य महिला बल्‍लेबाजों ने निराश किया। रोमांचकारी मुकाबले में करीबी अंतर से हार के बाद वेलोसिटी की कप्‍तान दीप्ति शर्मा ने अपनी टीम की बल्‍लेबाजों पर भड़ास निकाली।

मैच के बाद दीप्ति शर्मा ने कहा, 'मेरे ख्‍याल से अगर हमने बीच के ओवरों में साझेदारी की होती, तो नतीजा यह नहीं होता। बल्‍लेबाजों ने जिम्‍मेदारी नहीं ली। मगर लौरा और सिमरन ने शानदार खेला।'

दीप्ति शर्मा ने स्‍वीकार किया कि जिस तरह का बल्‍लेबाजी क्रम उनके पास था, उसे देखते हुए 165 रन का लक्ष्‍य हासिल किया जा सकता था।

उन्‍होंने कहा, 'हमारा बल्‍लेबाजी क्रम जिस तरह का है, उसे देखते हुए लगा था कि इस लक्ष्‍य को हासिल किया जा सकता था। लौरा वोलवार्ट और सिमरन बहादुर को हर समय बल्‍ला घुमाने की जरूरत पड़ गई थी और उनके पास यही एक विकल्‍प बचा था। हमारी टीम ने जिस तरह प्रदर्शन किया, उससे हम संतुष्‍ट हैं।'

बता दें कि वेलोसिटी को आखिरी ओवर में जीत के लिए 17 रन की दरकार थी। सुपरनोवाज ने बाएं हाथ की स्पिनर सोफी एक्‍लेस्‍टोन को गेंद थमाई। लौरा वोलवार्ट और सिमरान बहादुर इस ओवर में 12 रन बना सके और सुपरनोवाज ने चार रन से मैच जीतकर खिताब अपने नाम किया।


Edited by Vivek Goel

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...