Create
Notifications

नियाल ओ'ब्रायन ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास का ऐलान किया

Enter caption
EXPERT COLUMNIST
Modified 13 Oct 2018
न्यूज़

आयरलैंड टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज नियाल ओ'ब्रायन ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है। साल 2002 में डेनमार्क के खिलाफ के एकदिवसीय क्रिकेट में डेब्यू करने वाले ब्रायन ने 36 साल की उम्र में संन्यास का ऐलान किया।

नियाल ओ'ब्रायन आयरलैंड टीम के सबसे सफल विकेटकीपर रहे हैं, उन्होंने विकेट के पीछे 241 शिकार किए। यहां तक कि इस साल पाकिस्तान के खिलाफ खेले गए आय़रलैंड के ऐतिहासिक पहले टेस्ट में भी टीम का हिस्सा थे।

संन्यास का ऐलान करते हुए नियाल ओ'ब्रायन ने कहा, "मैं आज क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास का ऐलान करता हूं। मैं काफी भाग्यशाली हूं कि देश के लिए 16 साल तक खेल पाया। मैं खुशी-खुशी इस खेल से विदा ले रहा हूं। मैं अपने कोच और साथी खिलाड़ियों का शुक्रिया अदा करना चाहता हूं, जिन्होंने मेरी काफी मदद की। मेरे लिए देश के लिए खेलना गर्व की बात है।"

नियाल ओ'ब्रायन ने आयरलैंड के लिए एक टेस्ट, 103 एकदिवसीय और 30 टी20 मुकाबले खेले। वो आयरलैंड के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में 5वें स्थान पर रहे। उन्होंने 25.54 की औसत से 3065 रन बनाए। नियाल ओ'ब्रायन ने अपना अंतिम अंतर्राष्ट्रीय मुकाबला इस साल अफगानिस्तान के खिलाफ खेला था, जिसमें वो सिर्फ 1 रन ही बना पाए थे।

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 3000 से ज्यादा रन बनाने के अलावा ओ'ब्रायन ने 176 फर्स्ट क्लास मुकाबलों में 9057 रन बनाए। इसके अलावा घरेलू क्रिकेट में उन्होंने 328 लिस्ट ए और 147 टी20 मुकाबले भी खेले।

नियाल ओ'ब्रायन ने साल 2007 विश्वकप में पाकिस्तान के खिलाफ मिली फेमस जीत में अहम भूमिका निभाई थी। 128 रनों का पीछा करते हुए उन्होंने 72 रनों का योगदान दिया और उन्हें मैन ऑफ द मैच भी मिला था। इसके अलावा वो साल 2011 विश्वकप में इंग्लैंड के खिलाफ मिली जीत में भी टीम का हिस्सा थे।

Published 13 Oct 2018
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now