Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

इंग्लैंड के बल्लेबाज निक कॉम्पटन ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से लिया संन्यास

Enter capt
Naveen Sharma
FEATURED WRITER
Modified 05 Oct 2018, 18:22 IST
न्यूज़
Advertisement

इंग्लैंड के क्रिकेटर निक कॉम्पटन ने सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा कर दी है। 35 वर्षीय खिलाड़ी ने मंगलवार को क्रिकेट छोड़ने का ऐलान किया। 2012 में भारत के खिलाफ अहमदाबाद टेस्ट से उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का आगाज किया था। अपने करियर में इस इंग्लिश खिलाड़ी ने 16 टेस्ट खेलकर 775 रन बनाए। 

टेस्ट क्रिकेट में निक कॉम्पटन का सर्वाधिक स्कोर 117 रन का है जो उन्होंने न्यूजीलैंड के खिलाफ 2014 में बनाया था। इसके अलावा दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2015-16 में डरबन टेस्ट के दौरान उन्होंने 85 रनों की संघर्षपूर्ण पारी खेलते हुए टीम को जीतने में मदद की थी। 2016 में इस खिलाड़ी ने मानसिक और शारीरिक कारणों से क्रिकेट से ब्रेक लिया था। 

निक कॉम्पटन का प्रथम श्रेणी क्रिकेट में रिकॉर्ड बेहद शानदार रहा है। 40 से ज्यादा की औसत से 12 हजार 168 रन उन्होंने बनाए। काउंटी में मिडिलसेक्स की तरफ से खेलने के बाद सोमरसेट के लिए भी इस बल्लेबाज ने खेला। वहां रन बनाने के बाद वापस मिडिलसेक्स से जुड़ गए। अच्छे प्रदर्शन के बाद भी उन्हें इंग्लैंड की टीम में मौका नहीं मिला। धीरे-धीर इंग्लिश टीम में नए खिलाड़ियों ने स्थान पक्का कर लिया इसलिए निक के लिए अवसरों की कमी बढ़ती गई। 

पिछले महीने इंग्लैंड के दिग्गज खिलाड़ी एलिस्टेयर कुक ने संन्यास की घोषणा की थी। भारत के खिलाफ पांचवें टेस्ट में उन्होंने अंतिम बार अंतरराष्ट्रीय मुकाबला खेला। कुक ने इस अंतिम मैच में शतक लगाया। पहली पारी में उन्होंने अर्धशतक जमाया। इससे पहले पॉल कोलिंगवुड ने भी अक्रिकेट को अलविदा कहा था। 

संन्यास के बाद भी निक कॉम्पटन मिडिलसेक्स के साथ जुड़े रहेंगे। वे एम्बेसडर के तौर पर उनके साथ रहेंगे। उन्होंने खेल को अलविदा कहने का फैसला भी सोचकर लिया होगा। उम्र के साथ ही इंग्लैंड की टीम में स्थान की कमी उनको साफ़ नजर आ रही थी, इसके अलावा प्रदर्शन भी ठीक नहीं रहा।

Published 05 Oct 2018, 16:37 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit