Create
Notifications

मैं इंग्लैंड टीम को हल्के में नहीं लेना चाहता: विराट कोहली

सोहैल आब्दी

टीम इंडिया के टेस्ट कप्तान विराट कोहली ने अपने आने वाले घरेलू सीजन के दूसरे लेग को लेकर कई नई तैयारियां की हैं। भारत का ये दूसरा लेग इंग्लैंड के विरुद्ध पांच मैचों की टेस्ट सीरीज़ के साथ 9 नवम्बर से शुरू हो रहा है। टीम इंडिया के टेस्ट कप्तान ने अपने विरोधी टीम को हल्के में ना लेने का फैसला किया है। कोहली को अच्छी तरह पता है कि ये एक ऐसी टीम है जो भारत में अक्सर अच्छा प्रदर्शन करती है। अपने पिछले दौरे पर इस इंग्लिश टीम ने भारत को टेस्ट सीरीज़ में 2-1 से मात दी थी। कप्तान कोहली इस बात से पूरी तरह आगाह है इसलिए उन्होंने अपनी विरोधी टीम के हल्के में न लेने का बयान भी दिया है। मीडिया से बात करते हुए कप्तान ने जो कहा वो वाकई में ध्यान देने वाला कथन है। “हम हाल में बेहतरीन क्रिकेट खेल रहे हैं बस ज़रूरत है तो अपनी ले पकड़कर खेलने की। लेकिन आप अपनी विरोधी टीम को भी नज़रअंदाज़ नहीं कर सकते। एक कप्तान के रूप मैं मैं इस बात को कतई नज़रअंदाज़ नहीं करूँगा। हम पिछले 12-14 महीनों से फैसलों के लिए टेस्ट क्रिकेट खेलते चले आ रहे हैं और इस आगे भी जारी रखेंगे”: विराट कोहली आखिरी बार भारत ने इंग्लैंड के विरुद्ध टेस्ट सीरीज साल 2008/09 में जीती थी लेकिन उसके बाद से लगातार इंग्लिश टीम हमपर हावी होती नज़र आई है। पिछली बार 2012/13 में जब इंग्लैंड ने भारत को मात दी थी तब उस सीरीज़ में केविन पीटरसन, मॉन्टी पनेसर और ग्रेम स्वान उस सीरीज के हीरो रहे थे जो इस बार इस दौरे पर नहीं हैं। मीडिया से बात करते हुए कप्तान कोहली ने ये भी कहा कि “टीम संतुलन एक ऐसी चीज़ है जिसके बारे में मैं अभी यहाँ पर कुछ भी नहीं बता सकता। मैं ये भी नहीं कह सकता के इंग्लैंड ने अपनी पिछली सीरीज़ बांग्लादेश के विरुद्ध खराब खेली थी, बल्कि सच ये है कि मेज़बान ने परिस्थितियों का सही फायदा उठाया था”। भारत और इंग्लैंड के बीच पहला टेस्ट मैच 9 नवम्बर से राजकोट में शुरू होने जा रहा है। अब देखना ये है कि कप्तान कोहली किस इरादे और गेम प्लान से इस सीरीज़ में उतरते हैं।


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...