वनडे क्रिकेट को 40 ओवरों का कर देना चाहिए, रवि शास्त्री ने दिया अहम सुझाव

रवि शास्त्री ने वनडे को दिलचस्प बनाने के लिए दिया अहम सुझाव
रवि शास्त्री ने वनडे को दिलचस्प बनाने के लिए दिया अहम सुझाव

वनडे क्रिकेट को लेकर इन दिनों लगातार सवाल उठ रहे हैं। हाल ही में रविचंद्रन अश्विन, वसीम अकरम और उस्मान ख्वाजा जैसे दिग्गजों ने कहा था कि वनडे क्रिकेट की अहमियत खत्म होती जा रही है और ये बोरिंग होने लगा है। वहीं इसे दिलचस्प बनाने के लिए भारत के पूर्व क्रिकेटर रवि शास्त्री (Ravi Shastri) ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि वनडे क्रिकेट को 50 की बजाय 40 ओवरों का कर देना चाहिए।

रविचंद्रन अश्विन ने कुछ दिनों पहले कहा था कि वनडे क्रिकेट को अपनी प्रासंगिकता खोजने की जरूरत है क्‍योंकि यह बिना 'उतार और प्रवाह' के टी20 क्रिकेट का विस्‍तारित प्रारूप बन रहा है। उन्होंने कहा था कि क्रिकेट का दीवाना होने के बावजूद एक समय के बाद मैंने टीवी बंद कर दिया था और ये इस फॉर्मेट के लिए काफी भयावह चीज है। जब वो उतार और प्रवाह की कमी रहेगी तो यह क्रिकेट बचेगा ही नहीं। यह टी20 का विस्‍तारित रूप है। वहीं हाल ही में वसीम अकरम और उस्मान ख्वाजा ने कहा था कि धीरे-धीरे वनडे क्रिकेट में लोग कम रुचि लेने लगे हैं।

अब समय आ गया है कि वनडे को 40 ओवर का कर दिया जाए - रवि शास्त्री

रवि शास्त्री के मुताबिक वनडे क्रिकेट को दिलचस्प बनाने के लिए इसे 40-40 ओवरों का कर दिया जाना चाहिए। उन्होंने फैनकोड पर बातचीत के दौरान कहा,

गेम को छोटा करने में कोई नुकसान नहीं है। जब वनडे क्रिकेट की शुरूआत हुई थी, तब ये 60 ओवरों का होता था। जब हमने 1983 में वर्ल्ड कप का खिताब जीता था तो 60 ओवरों की एक पारी होती थी। उसके बाद लोगों को लगा कि 60 ओवर बहुत लंबा है। लोगों को 20 से 40 के बीच का गैप काफी बोरिंग लगने लगा। इसलिए इसे 50 ओवरों का कर दिया गया। उसके बाद से अभी तक कई साल बीत चुके हैं और ऐसे में अब इसे 50 से 40 ओवर का किया जा सकता है।

आपको बता दें कि पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी ने भी वनडे क्रिकेट को 40-40 ओवर का करने का सुझाव दिया था।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
App download animated image Get the free App now