Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

एमएस धोनी की धीमी बल्लेबाजी से अन्य खिलाड़ियों पर दबाव बढ़ता है: गौतम गंभीर

Naveen Sharma
FEATURED WRITER
Modified 21 Sep 2018, 20:22 IST

भारतीय टीम को इंग्लैंड के खिलाफ तीन वन-डे मैचों की सीरीज में पराजय मिलने के बाद चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है। महेंद्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं। गौतम गंभीर ने कहा है कि माही की बल्लेबाजी से बाकी बल्लेबाजों पर दबाव बढ़ता है। गंभीर ने यह बात धोनी की धीमी बल्लेबाजी के संदर्भ में कही है।

क्रिकबज से बातचीत में बाएँ हाथ के इस खिलाड़ी ने कहा कि धोनी की बल्लेबाजी में शुरुआत से डॉट बॉल ज्यादा रहती है इसके बाद साथी खिलाड़ियों पर दबाव बढ़ता है। आगे उन्होंने कहा कि इस तरह पहले देखने को नहीं मिलता था लेकिन हाल ही में डॉट बॉल खेलने का सिलसिला बढ़ा है और माही को इस पर काम करने की जरूरत है।

2 बार भारत को विश्वकप जिताने में अहम भूमिका निभाने वाले गंभीर ने कहा कि शुरुआत में समय लेने के बाद माही को आखिर में उसकी भरपाई करने के लिए अंत तक रुकना चाहिए।

गौरतलब है कि हेडिंग्ले वन-डे में भारत को इंग्लैंड ने 8 विकेट से हराकर सीरीज 2-1 से जीती है। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 8 विकेट पर 256 रन बनाए। जवाब में खेलते हुए इंग्लैंड ने 2 विकेट पर लक्ष्य प्राप्त कर लिया। जो रूट ने लगातार 2 मैचों में शतक जड़े। महेंद्र सिंह धोनी की बल्लेबाजी आखिरी दोनों वन-डे मैचों में धीमी रही। दूसरे वन-डे में उनके धीरे खेलने के पीछे कोई मकसद भी नजर नहीं आया।

गौतम गंभीर ने धोनी की कप्तानी में काफी क्रिकेट भारतीय टीम के लिए खेली है और वे माही की क्षमताओं से अच्छी तरह वाखिफ हैं। आईपीएल में माही की फॉर्म बेहद धाकड़ रही थी लेकिन उस फॉर्म को इंग्लैंड में उस तरह से वे नहीं दिखा पाए। आलोचनाओं का जवाब माही ने बल्ले से हमेशा दिया है और आशा करते हैं कि आगे वे ऐसा देखने को मिलेगा।

Published 18 Jul 2018, 11:26 IST
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...