Create
Notifications

आईसीसी इवेंट्स में रूचि दिखाने वाले 17 देशों में पाकिस्तान और अमेरिका भी शामिल

Naveen Sharma

संयुक्त राज्य अमेरिका और पाकिस्तान 17 सदस्य देशों में से हैं, जिन्होंने व्यक्तिगत या संयुक्त क्षमताओं में, 2024-2031 एफ़टीपी चक्र में आईसीसी टूर्नामेंट की मेजबानी करने के लिए रुचि व्यक्त की है। अन्य ICC को प्रारंभिक तकनीकी प्रस्ताव देने वाले अन्य देशों में ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, इंग्लैंड, भारत, आयरलैंड, मलेशिया, नामीबिया, न्यूजीलैंड, ओमान, स्कॉटलैंड, दक्षिण अफ्रीका, श्रीलंका, वेस्ट इंडीज, यूएई और जिम्बाब्वे हैं।

भारत में होने वाले 2023 विश्व कप के बाद आठ साल के चक्र में आठ वैश्विक टूर्नामेंट होंगे। आयोजनों में दो पुरुष क्रिकेट विश्व कप, चार पुरुष टी20 विश्व कप और दो चैंपियंस ट्रॉफी शामिल हैं। आईसीसी ने कहा कि विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के लिए मेजबान, महिला और अंडर -19 स्पर्धाओं को नए चक्र में एक अलग प्रक्रिया में निर्धारित किया जाएगा और यह काम इस साल के अंत में किया जाएगा।

17 देश अब सितंबर में अधिक विस्तृत प्रस्ताव पेश करेंगे और आईसीसी बोर्ड नियत समय में अंतिम निर्णय लेगा। पाकिस्तान की पूरी कोशिश है कि कम से कम एक इवेंट खुद से और दूसरा इवेंट अन्य देशों के साथ मिलकर एशिया में आयोजित करे। वह बांग्लादेश, श्रीलंका के साथ मिलकर आईसीसी इवेंट आयोजित कराना चाहता है लेकिन एशिया में होने वाले टूर्नामेंट में भारत का शामिल नहीं होना कहीं से भी मुमकिन नजर नहीं आता।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड पहले ही कह चुका है कि उसने अगले चक्र में छह आईसीसी आयोजनों की मेजबानी करने में अपनी रुचि व्यक्त की है और वे कम से कम एक आयोजन के मेजबानी अधिकार अर्जित करने के लिए आशान्वित हैं। बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड 2025 चैंपियंस ट्रॉफी की मेजबानी करना चाहता है। बीसीसीआई टैक्स छूट की गारंटी देने के लिए प्रतिबद्ध नहीं है, तीन आयोजनों की मेजबानी करने की योजना बना रहा है।

आईसीसी को आने वाले समय में इस पर निर्णय लेना है। देखना होगा कि फ्यूचर टूर प्रोग्राम में क्या प्रोग्रेस देखने को मिलती है।


Edited by Naveen Sharma

Comments

Fetching more content...