पाकिस्तानी स्पिनर सईद अजमल ने लिया क्रिकेट से संन्यास

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के दिग्गज स्पिनर सईद अजमल ने क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। पाकिस्तान के नेशनल कप टी20 टूर्नामेंट में फैसलाबाद के लिए लाहौर व्हाइट्स के खिलाफ सेमीफाइनल मुकाबला खेलने के बाद उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कह दिया। संन्यास लेते वक्त उन्होंने आईसीसी की भी जमकर आलोचना की। अजमल ने अपने विवादों से भरे करियर में 35 टेस्ट मैच खेले और 178 विकेट चटकाए, उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट मैच साल 2014 में कोलंबो में श्रीलंका के खिलाफ खेला था। उसी दौरान उनके गेंदबाजी एक्शन को दूसरी बार संदिग्ध पाया गया था। इससे पहले 2009 में दुबई में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला में उनके गेंदबाजी एक्शन पर सवाल उठे थे। उन पर थोड़े समय के लिए गेंदबाजी करने पर बैन भी लगा दिया गया था, हालांकि 2015 में उन्होंने वापसी जरुर की लेकिन उनको उतनी सफलता नहीं मिल पाई। पीटीआई को दिए इंटरव्यू में अजमल ने कहा कि मैं 40 साल की उम्र में संन्यास ले रहा हूं और मुझे लगा कि अब समय आ गया है कि युवा खिलाड़ियों के लिए रास्ता बनाया जाए। मैं घरेलू टीमों को भी एक बोझ की तरह लगने लगा था और मैं अपना मान-सम्मान नहीं खोना चाहता हूं। अजमल ने आगे कहा कि मैं भारी मन से संन्यास ले रहा हूं और मुझे लगता है कि आईसीसी के प्रोटोकाल काफी कड़े हैं। अगर इस वक्त के सभी गेंदबाजों का टेस्ट किया जाए तो मैं निश्चित रुप से ये कह सकता हूं कि 90 प्रतिशत गेंदबाज इसमें फेल हो जाएंगे। उन्होंने ये भी कहा कि अगर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने आईसीसी के समक्ष उनके पक्ष को मजबूती से रखा होता तो उन्हें थोड़ा संतुष्टि मिलती। अजमल ने कहा कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने गेंदबाजी एक्शन संदिग्ध पाए जाने के बाद मेरा सपोर्ट किया लेकिन मुझे लगता है कि वो इस मामले को लेकर आईसीसी के स्तर पर एक चुनौती भी पेश कर सकते थे। उन्होंने कहा कि एक सड़क दुर्घटना में उनको चोट लगी जिसकी वजह से ये परेशानी हुई। अजमल ने कहा कि क्रिकेट से संन्यास लेने का ये सही वक्त है। गौरतलब है सईद अजमल ने अपना पहला टेस्ट मैच श्रीलंका के खिलाफ साल 2009 में खेला था और आखिरी टेस्ट मैच भी उन्होंने 2014 में श्रीलंका के खिलाफ ही खेला। अजमल ने अपने एकदिवसीय करियर की शुरुआत साल 2008 में भारत के खिलाफ मैच से की थी और आखिरी वनडे मैच 2015 में बांग्लादेश के खिलाफ खेला। उन्होंने 113 वनडे मैचों में 184 विकेट चटकाए और 64 टी20 मैचों में 85 विकेट झटके।

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment