सरफराज अहमद ने की एम एस धोनी की नकल करने की कोशिश, बुरी तरह हुए फेल

पाकिस्तान ने रविवार को खेले गए आखिरी एकदिवसीय मुकाबले में जिम्बाब्वे को 131 रन से हराकर 5 मैचों की सीरीज 5-0 से अपने नाम कर ली। इस पूरी सीरीज के दौरान पाकिस्तान ने अपेक्षाकृत जिम्बाब्वे की कमजोर टीम के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन किया। आखिरी मैच में पाकिस्तान के धाकड़ ओपनर बल्लेबाज फखर जमान ने वनडे इंटरनेशनल में अपने 1000 रन भी पूरे कर लिए। हालांकि फखर जमान के रिकॉर्ड के अलावा पाकिस्तान क्रिकेट टीम के कप्तान भी एक बेहद अलग वजह से चर्चा में हैं। दरअसल आमतौर पर सरफराज अहमद को विकटों के पीछे ही अपना जलवा बिखेरते देखा गया है लेकिन इस बार उन्होंने कुछ और करने की ठानी और खुद का ही मजाक बना बैठे। दरअसल , इस मैच में सरफराज ने विकेट कीपर के दस्ताने उतारकर गेंदबाजी में हाथ आजमाने का निर्णय किया था। इस दौरान विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी फखर जमान के हाथों में रही। उनका पहला ओवर काफी किफायती रहा , जिसमें उन्होंने सिर्फ 6 रन खर्च किये। लेकिन ज़िम्बाब्वे की पारी के 48वें ओवर के दौरान दूसरा ओवर लेकर आये सरफराज को पहली ही गेंद पर छक्का खाना पड़ा। पीटर मूर ने उनकी पहली गेंद पर हवाई फायर किया और गेंद सीधे जाकर दर्शक दीर्घा में गिरी। सरफराज ने इस दौरान सिर्फ दो ओवर डाले और 15 रन खर्च किए लेकिन उन्हें कोई भी विकेट नहीं मिला।

वैसे आपको बता दें कि पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी ने भी वनडे में है गेंदबाजी की है लेकिन उन्होंने छक्का या चौका नहीं खाया बल्कि एक विकेट भी उनके नाम है। धोनी ने अपने वनडे करियर में 36 गेंदें फेंकी हैं जिनमें उन्होंने 31 रन देकर एक विकेट भी अपने नाम किया है। धोनी ने 2009 में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान वेस्टइंडीज के खिलाफ ट्रैविस डॉलिन का विकेट लिया था। सरफराज खान ने भी कुछ उसी तरह की कोशिश करनी चाही लेकिन उनका ये दांव उल्टा पड़ गया।

App download animated image Get the free App now