Create
Notifications

भारतीय टीम के गेंदबाज के संन्यास को लेकर ट्विटर पर जबरदस्त प्रतिक्रियाएं

England v India: 4th Investec Test - Day One
England v India: 4th Investec Test - Day One
Naveen Sharma
FEATURED WRITER

राजस्थान के तेज गेंदबाज पंकज सिंह (Pankaj Singh) ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया है। 2010-11 और 2011-12 में राजस्थान के लिए लगातार रणजी ट्रॉफी जीतने वाले पंकज ने भारत के लिए दो टेस्ट और एक वनडे खेला। पंकज ने आईपीएल के पांच सत्रों में 20 मैचों में 11 विकेट अपने नाम किए। वह जयपुर में अपनी क्रिकेट एकेडमी भी चलाते हैं।

एक बयान में पंकज सिंह ने कहा कि यह निर्णय लेना आसान नहीं है, हालांकि प्रत्येक खिलाड़ी के जीवन में एक समय ऐसा आता है, जब किसी को इस बारे में (संन्यास) एक दिन कहना पड़ता है। भारी मन और मिश्रित भावनाओं के साथ मैं आधिकारिक तौर पर क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा करता हूं।

पंकज सिंह का पूरा बयान

उन्होंने कहा कि आज मेरे लिए सबसे कठिन दिन है लेकिन यह प्रतिबिंब और कृतज्ञता का भी दिन है। आरसीए, बीसीसीआई, आईपीएल और सीएपी के लिए खेलना मेरे लिए बड़े सम्मान की बात है। मैं लगभग 15 वर्षों से आरसीए का हिस्सा रहा हूं और कई मील के पत्थर तक पहुंचा और आरसीए की छत के तहत अविश्वसनीय अनुभव प्राप्त किया। आरसीए के साथ मेरी यात्रा हमेशा यादगार रही है और हमेशा मेरे लिए पहली प्राथमिकता रहेगी।

England v India: 4th Investec Test - Day Two
England v India: 4th Investec Test - Day Two

253 मैचों में 633 विकेट लेकर पंकज भारत के बेहतरीन घरेलू क्रिकेटरों में से एक हैं। 2004 में प्रथम श्रेणी में पदार्पण करने और 2006 में लिस्ट ए की शुरुआत करने के बाद के अनुभव के साथ पंकज ने 2010 में श्रीलंका के खिलाफ हरारे में त्रिकोणीय श्रृंखला में अपना एकदिवसीय डेब्यू किया लेकिन वह उसमें विकेट प्राप्त नहीं कर पाए।

टेस्ट क्रिकेट में भी वह ज्यादा सफल नहीं रहे। वह दो टेस्ट मुकाबलों में महज 2 विकेट हासिल कर पाए और बाद में टीम में वापस कभी नहीं दिखे। घरेलू क्रिकेट में उनका बड़ा नाम था।

Edited by Naveen Sharma
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now