Create

आईपीएल के दूसरे चरण में दक्षिण अफ़्रीकी खिलाड़ियों के खेलने को लेकर संशय

reaction-emoji
निरंजन

आईपीएल 2021 (IPL 2021) का यूएई चरण सितंबर में शुरू होने के लिए पूरी तरह तैयार है क्योंकि लीग के शुरुआती चरण को कोरोना वायरस के कारण बीच में ही रोकना पड़ा था। खबरें आ रही थी कि विदेशी खिलाड़ियों की भागीदारी सवालों के घेरे में है क्योंकि उन्हें द्विपक्षीय श्रृंखलाओं में आगे बढ़ना है। नए घटनाक्रम में दक्षिण अफ़्रीकी खिलाड़ियों के खेलने को लेकर संशय सामने आया है।

टी20 लीग के दूसरे चरण में दक्षिण अफ़्रीकी खिलाड़ियों के भाग लेने को लेकर आईपीएल टीमों में हड़कंप मच गया है। दक्षिण अफ़्रीकी टीम को अपनी सफेद गेंद वाली श्रृंखला के लिए श्रीलंका का दौरा करना है जिसमें तीन एकदिवसीय और तीन टी20 मैच शामिल हैं और यह दौरा 12 सितंबर को समाप्त होगा। देखने वाली बात यह होगी कि यूएई सरकार उन्हें बायो बबल से दूसरे बायो बबल में ट्रांसफर करने की अनुमति देती है या नहीं। अगर ऐसा नहीं होता है, तो उन्हें दूसरे चरण के शुरुआती मैचों से बाहर रहना पड़ सकता है।

क्रिकबज के अनुसार बीसीसीआई की हालिया मीटिंग में भारतीय बोर्ड आईपीएल के दूसरे चरण में विदेशी खिलाड़ियों की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए अन्य देशों के बोर्ड के साथ काम करने की कोशिश कर रहा है। बैठक में भाग लेने वाले अधिकारियों ने यह भी कहा कि ईसीबी के साथ भी चीजों को सुचारू बनाने के प्रयास किए जा रहे हैं क्योंकि कई इंग्लिश खिलाड़ी आईपीएल टीमों का अभिन्न अंग हैं।

ईसीबी ने पहले ही स्पष्ट कर दिया था कि उनके खिलाड़ी आईपीएल के यूएई चरण के लिए उपलब्ध नहीं होंगे क्योंकि वे द्विपक्षीय प्रतिबद्धताओं में व्यस्त होंगे। हालांकि, चीजों को बीच के रास्ते पर लाने की कोशिश की जा रही है और इस सप्ताह के अंत तक अंतिम फैसला लिया जाएगा।

आईपीएल के दूसरे चरण के लिए बीसीसीआई ने पहले ही कार्यक्रम का ऐलान कर दिया है। पहला मुकाबला मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच खेला जाना है। चेन्नई का प्रदर्शन पहले चरण में अच्छा रहा था। हालांकि मुंबई का प्रदर्शन ठीक नहीं रहा लेकिन यह टीम अभी भी टॉप चार में शामिल है। देखना होगा कि दूसरे चरण में टीमों का खेल कैसा रहेगा।


Edited by निरंजन
reaction-emoji

Comments

comments icon

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...