Create
Notifications

पीसीबी ने स्पॉट फिक्सिंग को लेकर नासिर जमशेद पर लगाया एक साल का प्रतिबंध

Rahul
visit

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने पाकिस्तान टीम के बल्लेबाज नासिर जमशेद पर स्पॉट फिक्सिंग के मामले में एक साल प्रतिबन्ध लगाया है। पाकिस्तान सुपर लीग में फिक्सिंग को लेकर एंटी करप्शन यूनिट ने इस मामले की जाँच करते हुए नासिर जमशेद को दोषी पाया, जिसपर पीसीबी ने अपना फैसला सुनाते हुए जमशेद को एक साल के लिए क्रिकेट से बैन कर दिया गया है। स्पॉट फिक्सिंग में नासिर जमशेद का मामला ज्यादा पेचीदा था। इसलिए पीसीबी ने इस ख़िलाड़ी को लेकर सभी जांच हो जाने का इंतजार किया। इस साल फरवरी में जमशेद को यूनाइटेड किंगडम से गिरफ्तार किया गया लेकिन उन्हें बाद में जमानत पर छोड़ दिया गया था। इस मामले को लेकर पीसीबी के क़ानूनी सलाहकार तैफुजुल रिज़वी ने रिपोर्टर्स से बातचीत करते हुए कहा कि नासिर पर लगे सभी आरोप अभी तक जाँच की परिक्रिया में थे और सभी आरोप आज सिद्ध हो गए है और उन्हें न्यायलय के द्वारा एक साल के लिए बैन किया जा रहा है। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने पिछले कुछ सालों में स्पॉट फिक्सिंग के मामलों पर सख्त कदम उठाएं है, जिसका नतीजा ये रहा कि कई खिलाड़ियों को जुर्माना और सजा मिली है। पीसीबी द्वारा लिए गए ये सभी फैसले पाकिस्तान में क्रिकेट को साफ़ व सही साबित करेंगे क्योंकि पिछले एक दशक से पाकिस्तान क्रिकेट में स्पॉट फिक्सिंग के कई अहम मामले देखने को मिले हैं। पीएसएल में फिक्सिंग के मामले में दोषी पाए जाने वाले नासिर जमशेद पाकिस्तान के 5वें ख़िलाड़ी हैं। इस साल फरवरी में खेले गए पीएसएल के दूसरे सत्र में कई पाकिस्तान ख़िलाड़ी फिक्सिंग में दोषी पाए गए और पकड़े गए लेकिन फिक्सिंग मामलों को गंभीरता से लेते हुए पीसीबी ने इस साल अभी तक 5 खिलाड़ियों को सजा देते हुए जुर्माना भी वसूला है। इन खिलाड़ियों में शरजील खान, खालिद लतीफ़, मोहम्मद इरफ़ान, मोहम्मद नवाज शामिल हैं।


Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now