Create
Notifications

बीसीसीआई को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने दिया झटका

 सौरव गांगुली
सौरव गांगुली
Naveen Sharma

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने बीसीसीआई को झटका दिया है। नवंबर में पाकिस्तान सुपर लीग के बचे हुए मैच कराने पर पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड विचार कर रहा है। इसका मतलब यही है कि उन्होंने बीसीसीआई की आईपीएल कराने की उम्मीदों पर पानी फेरने का मन बनाया है। बीसीसीआई आईपीएल के लिए नवंबर माह में विंडो देख रही है। वित्तीय घाटे को कम करने के लिए बीसीसीआई के लिए आईपीएल का आयोज जरूरी है।

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने वित्तीय भार में संतुलन बनाए रखने के लिए पीएसएल टीमों के बीच आगामी समय में बातचीत करते रहने का प्रस्ताव रखा है। बचे हुए मैचों को आयोजित करने पर हुई बातचीत में यह भी सामने आया कि इससे आय कम होगी लेकिन टूर्नामेंट को पूरी तरह स्थगित करने का निर्णय नहीं लिया गया। एशिया कप की मेजबानी भी पाकिस्तान को सितम्बर-अक्टूबर में करनी है। अगर वे नवंबर में पीएसएल आयोजित करते हैं तो बीसीसीआई और आईपीएल के लिए यह बड़ा झटका रहेगा। भारतीय टीम के अलावा विश्व क्रिकेट के अन्य खिलाड़ी पीएसएल में खेलते हैं।

यह भी पढ़ें:अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अंतिम गेंद पर छक्के से जीत दिलाने वाले बल्लेबाज

बीसीसीआई तलाश रही है विंडो

कोरोना वायरस के कारण आईपीएल अनिश्चितकाल के लिए रद्द करने वाले बीसीसीआई को अभी उम्मीद है। उन्हें अक्टूबर या नवंबर विंडो की तलाश है। हालांकि अक्टूबर में टी20 विश्वकप भी होना है। आईसीसी ने इस पर भी पूर्ण रुप से कोई फैसला अभी तक नहीं लिया है। बीसीसीआई को आईसीसी के फैसले का भी इंतजार है।

बीसीसीआई हेडक्वार्टर
बीसीसीआई हेडक्वार्टर

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के चलते मार्च में पाकिस्तान सुपर लीग को बीच में रोकने का निर्णय लिया गया था। उसके कुछ मैच भी बचे हुए हैं इसलिए पाक क्रिकेट बोर्ड टूर्नामेंट को संपन्न कराने के मूड में है। आईपीएल की बात होगी तो वे निश्चित रूप से अपना अड़ंगा लगाएंगे। हालांकि अभी किसी भी टूर्नामेंट पर कोई अंतिम फैसला नहीं हुआ है। आगामी समय में ही सभी चीजें स्पष्ट रूप से सामने आ पाएंगी।


Edited by Naveen Sharma

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...